scorecardresearch
 

प्रेमी युगल से मारपीट के मामले में दो गिरफ्तार

उत्तराखंड के कलियर में प्रेमी जोड़े के साथ मारपीट का मामला अब तूल पकड़ता जा रहा है. इस मामले में पुलिस ने मारपीट करने वाले और उसका वीडियो बनाकर वायरल करने वाले दो अलग अलग युवकों को गिरफ्तार कर लिया है. उनके खिलाफ आईटी एक्ट की धाराओ में कार्रवाई की जा रही है.

कलियर में इस जोडे के साथ जमकर मारपीट की गई थी कलियर में इस जोडे के साथ जमकर मारपीट की गई थी

उत्तराखंड के कलियर में प्रेमी जोड़े के साथ मारपीट का मामला अब तूल पकड़ता जा रहा है. इस मामले में पुलिस ने मारपीट करने वाले और उसका वीडियो बनाकर वायरल करने वाले दो अलग अलग युवकों को गिरफ्तार कर लिया है. उनके खिलाफ आईटी एक्ट की धाराओ में कार्रवाई की जा रही है.

इस शर्मनाक घटना ने सूफीसंत साबिर पिया के नगर का नाम भी बदनाम कर दिया. वारदात बीती 17 सितम्बर को कलियर में हुई थी. जहां एक प्रेमी जोड़ा एक गेस्ट हॉउस में रुका हुआ था तभी अचानक कुछ स्थानीय लोगों ने गेस्ट हाउस में घुसकर इस जोडे को बाहर निकाला था. और उसके बाद सरेआम उनकी बड़ी बेरहमी के साथ पिटाई की थी. इस दौरान कुछ लोगों ने उन्हें पीटते हुए उनका वीडियो भी बनाया गया था.

इस पूरी घटना का वीडियो वायरल हो गया. लेकिन पुलिस इस मामले को दबाने की कोशिश करती रही. लेकिन मीडिया में मामला आ जाने की बाद पुलिस ने दो स्थानीय युवकों को मारपीट करने और वीडियो बनाने के मामले में गिरफ्तार किया.

बताते चले कि रूड़की के कलियर शरीफ में विश्व प्रसिद्ध सूफीसंत साबिर पाक की दरगाह है. यहां देश विदेश से बड़ी संख्या में जायरीन आते हैं. इस पूरे इलाके में लोगों ने अवैध रूप से कई गेस्ट हॉउस बना रखे हैं. जहां रोजाना कई प्रेमी जोड़े आते हैं. जिससे कलियर शरीफ का माहौल भी खराब हो रहा है. पुलिस को कई बार शिकायत की गई लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की.

कहा जा रहा है कि यह घटना लोगों की नाराजगी का नतीजा है. पुलिस पर भी तरह तरह के आरोप लग रहे हैं. कांग्रेस नेता शमा सबरीन का कहना है कि कलियर में जो गेस्ट हाउस चल रहे हैं उनका गलत इस्तेमाल किया जा रहा है. पुलिस अधिकारियों से कई बार शिकायत की गई है. लेकिन कोई कार्यवाई नहीं हुई. इसीलिए लोगों ने कानून को हाथ में लिया.

कलियर थाने के एसएचओ राजीव रौथाण ने बताया कि युगल के साथ मारपीट करने और वीडियो वायरल करने के मामले में दो लोगों की गिरफ्तारी हुई है. इस कांड में शामिल अन्य लोगों की गिरफ्तारी के प्रयास भी किए जा रहे हैं.

बड़ा सवाल यह है कि आखिर स्थानीय लोगों को कानून अपने हाथ में लेने की जरूरत क्यों पड़ी. फिलहाल दो युवकों की गिरफ्तारी से स्थानीय लोगों में भारी आक्रोश बना हुआ है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें