scorecardresearch
 

नागौर: चोरी के आरोप में दलित युवकों से बर्बरता, गहलोत सरकार से बोले राहुल- तुरंत लें एक्शन

राजस्थान के नागौर में दो दलित युवकों को चोरी के आरोप में बेरहमी से पीटा गया. सोशल मीडिया पर वायरल हुए वीडियो के बाद राज्य सरकार एक्शन में है और आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है.

नागौर में दलितों से किया गया अत्याचार (वायरल वीडियो का स्क्रीनशॉट) नागौर में दलितों से किया गया अत्याचार (वायरल वीडियो का स्क्रीनशॉट)

  • राजस्थान के नागौर में दलितों पर अत्याचार
  • चोरी के आरोप में दो दलित युवकों को पीटा
  • मारपीट करने वाले पांच आरोपी गिरफ्तार
  • राहुल गांधी ने ट्वीट कर मामले पर जताया दुख

राजस्थान के नागौर से दिल दहलाने वाली ऐसी तस्वीरें सामने आई हैं जो लोगों को सामाजिक व्यवस्था पर विचार करने के लिए मजबूर कर देती हैं. यहां चोरी के आरोप में दो दलित युवकों को बेरहमी से पीटा गया, प्राइवेट पार्ट में पेट्रोल डाल दिया गया, स्क्रूड्राइवर का भी इस्तेमाल किया. इस वीडियो के आने के बाद एक बार फिर दलित उत्पीड़न को लेकर बहस शुरू हो गई है. कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी ट्वीट कर इस घटना की आलोचना की है और राज्य सरकार से एक्शन लेने की बात कही है.

सोशल मीडिया पर वायरल हुआ नागौर का ये वीडियो भले ही कुछ दिन पुराना हो, लेकिन अब इसने देश की राजनीति में भूचाल ला दिया है.  वीडियो में दो दलित युवक बचने के लिए चिल्ला रहे हैं, पीटने वालों से लगातार माफी मांग रहे हैं और बार-बार छोड़ देने की अपील कर रहे हैं लेकिन मारने वालों पर कोई फर्क नहीं पड़ रहा है.  घटना के बाद भारतीय जनता पार्टी की ओर से राज्य की कांग्रेस सरकार पर निशाना साधा जा रहा है.

क्या है मामला और कहां का है वीडियो?

ये वीडियो राजस्थान के नागौर जिले का है. पांचौड़ी थाना क्षेत्र के करणु सर्विस सेंटर में दो युवकों पर चोरी करने का आरोप लगाया गया. जिसके बाद सर्विस सेंटर के वर्कर्स ने दोनों को पीटा. घीसाराम और पन्नालाल दो दलित युवक सर्विस सेंटर पर किसी काम से गए थे. इस मामले में केस दर्ज कर लिया गया है और कार्रवाई की जा रही है. नागौर के ASP राजकुमार के मुताबिक, ये वीडियो 16 फरवरी का है.

क्लिक कर देखें,  प्राइवेट पार्ट में पेट्रोल डाल बेरहमी से प‍िटाई, वीड‍ियो वायरल

raj_022020030218.jpg

पुलिस ने इस मामले में IPC की धारा 342, 323, 341, 143 और SC/ST एक्ट के तहत केस दर्ज किया है. पुलिस द्वारा दर्ज की गई FIR में सात लोगों के नाम सामने आए हैं, इनमें भीम सिंह, ऐदान सिंह, जस्सू सिंह, सवाई सिंह शामिल हैं. इस घटना को अंजाम देने वाले सातों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है, साथ ही निष्पक्ष जांच भी की जा रही है. इस मामले की जांच नागौर ASP राजकुमार, DSP मुकुल शर्मा कर रहे हैं.

राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी इस घटना पर ट्वीट किया और जल्द से जल्द एक्शन का आश्वासन दिया. अशोक गहलोत ने कहा, ‘नागौर में जो भयावह घटना हुई है, उसमें तुरंत एक्शन ले लिया गया है और सभी सातों आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है. जिन्होंने ने भयावह काम किया है उन्हें कठिन सजा दी जाएगी’

इसे देखें: चोरी के आरोप में दलित को पीटा, प्राइवेट पार्ट में पेट्रोल-स्क्रूड्राइवर डाला

राहुल गांधी ने ट्वीट कर जताया दुख, एक्शन में आई सरकार

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी इस घटना पर दुख व्यक्त किया और राज्य सरकार से कड़ा एक्शन लेने को कहा. गुरुवार को राहुल ने ट्वीट में लिखा, ‘राजस्थान के नागौर से दो दलित युवकों को पीटने वाला जो वीडियो आया है वो डराने वाला है. मैं राज्य सरकार से अपील करता हूं कि वो तुरंत इस मामले में कड़ा एक्शन लें और दोषियों को कड़ी सजा दें’.

इस घटना के बाद राज्य सरकार में समाज कल्याण मंत्री भंवर मेघवाल ने भी बयान दिया है. उन्होंने कहा कि सरकार इस मामले को लेकर काफी गंभीर है. पुलिस अधिकारियों को कड़ा एक्शन लेने का निर्देश दे दिया गया है, राज्य में इस तरह दलितों पर अत्याचार बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.

भाजपा ने कांग्रेस सरकार को घेरा

दलित युवकों की इस तरह की गई पिटाई के बाद भारतीय जनता पार्टी ने कांग्रेस सरकार पर निशाना साधना शुरू कर दिया है. भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया का कहना है कि कांग्रेस लगातार लोक कल्याणकारी सरकार होने का दावा करती है, लेकिन ये निंदनीय है. इस मामले में सरकार को सख्त से सख्त कदम उठाना चाहिए. वहीं, बीजेपी नेता राजेंद्र राठौड़ ने आरोप लगाया कि कांग्रेस सरकार दलितों की सुरक्षा के प्रति गंभीर नहीं है.

नागौर से सांसद हनुमान बेनीवाल ने भी इस घटना की निंदा की है और IG से बात की है. बता दें कि गुरुवार को ही राजस्थान सरकार ने अपना बजट पेश किया है. बजट सत्र अभी भी जारी है और भाजपा का कहना है कि वह विधानसभा में इस मसले पर कांग्रेस सरकार को घेरेगी.  

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें