scorecardresearch
 

चंडीगढ़: PG में दो सगी बहनों की हत्या की गुत्थी सुलझी, रिटायर्ड सब इंस्पेक्टर का बेटा गिरफ्तार

चंडीगढ़ के सेक्टर 22 में हुए 2 सगी बहनों के मर्डर ने सनसनी मचा दी थी. पुलिस भी डबल मर्डर से सकते में थी, लेकिन पुलिस ने एक दिन के भीतर ही डबल मर्डर की मिस्ट्री सुलझाने का दावा किया है.

आरोपी गिरफ्तार (प्रतीकात्मक तस्वीर) आरोपी गिरफ्तार (प्रतीकात्मक तस्वीर)

चंडीगढ़ पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है. चंडीगढ़ पुलिस ने पीजी में रहने वाली दो सगी बहनों की हत्या के मामले की गुत्थी सुलझा ली है. इस मामले में चंडीगढ़ पुलिस के रिटायर्ड सब इंस्पेक्टर के बेटे को गिरफ्तार किया गया है.

पुलिस के मुताबिक इस वारदात को चंडीगढ़ पुलिस के रिटायर्ड सब इंस्पेक्टर के बेटे ने अंजाम दिया था. आरोपी कुलदीप मृतका के साथ संबंध टूटने से नाराज था. पुलिस ने आरोपी द्वारा जुर्म कबूलने का दावा किया है. बता दें कि शुक्रवार को चंडीगढ़ के सेक्टर 22 में हुए 2 सगी बहनों के मर्डर ने सनसनी मचा दी थी. पुलिस भी डबल मर्डर से सकते में थी, लेकिन पुलिस ने एक दिन के भीतर ही डबल मर्डर की मिस्ट्री सुलझाने का दावा किया है.

चंडीगढ़ की एसएसपी नीलांबरी जगदले ने शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर दावा किया कि आरोपी कुलदीप को दिल्ली से पकड़ा गया है. पुलिस के मुताबिक आरोपी ने मान लिया कि उसने ही दोनों बहनों का मर्डर किया है. पुलिस के मुताबिक आरोपी कुलदीप और मनप्रीत कौर कई सालों से रिलेशनशिप में थे, लेकिन कुछ समय से आपस में बातचीत बंद थी. कुलदीप को शक था कि मनप्रीत का रिलेशन किसी और के साथ था. 15 अगस्त को तड़के 4-5 बजे के बीच उसने मर्डर कर दिया.

कुलदीप ने मनप्रीत का गला दबाया और सिर फर्श पर पटका. इसके बाद तेजधार हथियार से उसकी हत्या कर दी. जब उसकी बहन राजवंत बाथरूम से लौटी तो कुलदीप ने उसकी भी इसी तरीके से हत्या कर दी. कुलदीप वारदात को अंजाम देकर फरार हो गया था. वारदात को अंजाम देने के दौरान दोनों के चिल्लाने की आवाज सुनकर पड़ोसियों ने पुलिस को सूचना दी. पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज और मोबाइल लोकेशन के जरिए आरोपी को गिरफ्तार किया है. हालांकि हत्या में इस्तेमाल हत्यार को अभी तक बरामद नहीं किया जा सका है. पुलिस आरोपी से पूछताछ कर रही है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें