scorecardresearch
 

सीवान में पत्रकार मर्डर केस में दो लोग हिरासत में, बीजेपी बोली- बिहार में जंगलराज नहीं महाजंगलराज

बिहार के सीवान में 'हिन्दुस्तान' दैनिक अखबार के ब्यूरो चीफ की हत्या के मामले में शनिवार को पुलिस ने दो लोगों को हिरासत में लिया है. उनसे पूछताछ की जा रही है. सीनियर जर्नलिस्ट राजदेव रंजन शुक्रवार देर रात जब ऑफिस से घर लौट रहे थे, तब बाइक सवार बदमाशों ने उन्हें गोली मार दी थी.

X
सीनियर जर्नलिस्ट राजदेव रंजन (फाइल) सीनियर जर्नलिस्ट राजदेव रंजन (फाइल)

बिहार के सीवान में 'हिन्दुस्तान' दैनिक अखबार के ब्यूरो चीफ की हत्या के मामले में शनिवार को पुलिस ने दो लोगों को हिरासत में लिया है. उनसे पूछताछ की जा रही है. सीनियर जर्नलिस्ट राजदेव रंजन शुक्रवार देर रात जब ऑफिस से घर लौट रहे थे, तब बाइक सवार बदमाशों ने उन्हें गोली मार दी थी. बीजेपी ने नीतीश सरकार पर जमकर निशाना साधा है. बीजेपी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि बिहार में जंगलराज नहीं अब महाजंगलराज है.

ऐसे हुई घटना
राजदेव शुक्रवार शाम बाइक से ऑफिस से घर लौट रहे थे. इसी दौरान टाउन थाना क्षेत्र के ओवरब्रिज के फ्लाइओवर के पास अज्ञात बदमाशों ने उन्हें घेर लिया और फायरिंग कर दी. रंजन को दो गोली लगी. अस्पताल ले जाने के दौरान उनकी मौत हो गई. सीवान एसपी ने बताया कि अपराधी बाइक पर सवार थे. अपराधियों की संख्या कितनी थी, यह अभी साफ नहीं हो सका है. मामले की छानबीन की जा रही है.

गुरुवार को थी शादी की सालगिरह
42 वर्षीय राजदेव रंजन सीवान के महादेवा मिशन कंपाउंड मोहल्ले में रहते थे. गुरुवार को ही उनकी शादी की सालगिरह थी. बिहार के आईजी ने जांच के लिए एक एसपी को रवाना कर दिया है.

जर्नलिस्ट के मर्डर पर सियासत शुरू
जर्नलिस्ट की हत्या के मामले में बीजेपी ने नीतीश सरकार को निशाने पर लिया है. बीजेपी नेता शाहनवाज हुसैन ने ट्विटर पर लिखा है, 'राजदेव रंजन निर्भीक होकर लिखने वाले पत्रकार थे. बहुत दुख हुआ सुनकर कि उनकी हत्या कर दी गई. यह जंगलराज नहीं, महाजंगलराज है.'

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें