scorecardresearch
 

मॉब लिंचिंग: बदमाश को पकड़ने गए पुलिसकर्मी की पीट-पीटकर हत्या

देश के विभिन्न हिस्सों से आ रही मॉब लिंचिंग की घटनाओं के बीच मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा जिले से एक और घटना सामने आई है, जहां बदमाश को पकड़ने गए सहायक उपनिरीक्षक (असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर) देव चंद नागले की ग्रामीणों ने पीट-पीटकर हत्या कर दी.

मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा जिले की घटना मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा जिले की घटना

देश के विभिन्न हिस्सों से आ रही मॉब लिंचिंग की घटनाओं के बीच मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा जिले से एक और घटना सामने आई है, जहां बदमाश को पकड़ने गए सहायक उपनिरीक्षक (असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर) देव चंद नागले की ग्रामीणों ने पीट-पीटकर हत्या कर दी. पुलिस इस मामले की जांच कर रही है.

अतिरक्ति पुलिस अधीक्षक नीरज सोनी ने बुधवार को बताया कि जिले के उमरेठ थाने के एएसआई नागले बदमाश जौहर सिंह (जिसके नाम वारंट था) को पकड़ने के लिए मंगलवार रात को जमुनिया जेठू गांव गए थे. उसी वक्त गांव के कुछ लोगों ने उन पर कुल्हाड़ी, डंडे आदि से हमला बोल दिया. इससे उनकी मौत हो गई.

नीरज सोनी के मुताबिक, इस मामले में आठ लोगों को हिरासत में लिया गया है. इसके साथ ही पुलिस कार्रवाई जारी है. सूत्रों ने बताया है कि नागले के साथ एक पुलिसकर्मी और कोटवार (गांव का लेखा-जोखा रखने वाला) भी थे. तीनों निहत्थे थे. भीड़ को हमला करते देख दो लोग भाग खड़े हुए नागले अकेले बचे. बदमाशों ने हत्या कर दी.

बताते चलें कि इनदिनों मॉब लिंचिंग की घटनाएं तेजी से बढ़ी हैं. हालही में मध्य प्रदेश के सिंगरौली जिले में बच्चा चोरी के शक में भीड़ ने एक विक्षिप्त महिला की पीट-पीटकर हत्या कर दी थी. इसके बाद लोगों ने महिला का शव जंगल में फेंक दिया. इसी बीच किसी ने पुलिस को सूचना दे दी. मौके पर पहुंची पुलिस ने महिला का शव बरामद कर लिया.

इस मामले में पुलिस ने 12 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. यह घटना मोरवा थाने के भोष गांव की है. एक घर के बाहर बैठी एक विक्षिप्त महिला को ग्रामीणों ने बच्चा चोर समझकर पीटना शुरू कर दिया. देर तक चली पिटाई से महिला बुरी तरह घायल हो गई. इसके बाद महिला की मौत हो गई. पुलिस के डर से शव को जंगल में फेंक दिया था.

पुलिस के अनुसार, जंगल में लहूलुहान मिली महिला की पहचान नहीं हो पाई है, जांच में पता चला है कि महिला को गांव के लोगों ने मिलकर बच्चा चोर के शक में पीटा था. थाना प्रभारी नरेंद्र सिंह रघुवंशी सोमवार को बताया कि बच्चा चोरी की अफवाह फैलने के चलते भोष और बड़गड़ गांव के लोगों ने मिलकर महिला को पीटा था, जिसमें उसकी मौत हो गई.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें