scorecardresearch
 

नाबालिग छात्रा से चपरासी ने की रेप की कोशिश, प्रिंसिपल करा रहीं सुलह

झांसी के SP देवेश पांडेय ने बताया कि सीपरी बाजार थाना क्षेत्र के दीनदयालनगर की रहने वाली की एक महिला ने शिकायती पत्र देकर आरोप लगाया है कि उसकी 11 साल की बेटी के साथ उसके स्कूल के चपरासी ने रेप करने की कोशिश की.

प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर

देश में नाबालिगों से रेप पर फांसी की सजा का कानून बन गया है, इसके बावजूद नाबालिगों के खिलाफ यौन शोषण की घटनाएं रुकने का नाम ही नहीं ले रहीं. अब उत्तर प्रदेश के झांसी से एक नाबालिग छात्रा के साथ रेप की कोशिश का मामला सामने आया है.

झांसी के प्रेमनगर थाना क्षेत्र के गर्ल्स मिशनरी स्कूल में 8वीं की एक छात्रा के साथ स्कूल के ही चपरासी ने रेप की कोशिश की. पीड़िता ने घर लौटकर मां को पूरी घटना के बारे में बताया. पीड़िता की मां ने SP को पत्र लिखकर आरोपी चपरासी के खिलाफ केस दर्ज कराया है.

झांसी के SP देवेश पांडेय ने बताया कि सीपरी बाजार थाना क्षेत्र के दीनदयालनगर की रहने वाली की एक महिला ने शिकायती पत्र देकर आरोप लगाया है कि उसकी 11 साल की बेटी के साथ उसके स्कूल के चपरासी ने रेप करने की कोशिश की. उन्होंने कहा कि महिला की शिकायत की गंभीरता से जांच कराई जा रही है.

जानकारी के मुताबिक, पीड़ित छात्रा प्रेमनगर थाना क्षेत्र के गर्ल्स मिशनरी स्कूल में आठवीं कक्षा में पढ़ती है. मजदूर दिवस पर स्कूल में एक कार्यक्रम आयोजित किया गया था. कार्यक्रम के दौरान स्कूल के 40 वर्षीय चपरासी ने पीड़ित छात्रा को ऊपर वाले कमरे में सामान लेने के लिए भेजा.

लेकिन छात्रा के पीछे-पीछे वह खुद पहुंच गया और कमरा बंद कर लिया. इसके बाद उसने बंद कमरे में छात्रा के साथ दुष्कर्म की कोशिश की. जब छात्रा ने कमरे की खिड़की से कूदने की कोशिश की तो डरकर वह छात्रा को वहीं छोड़ भाग खड़ा हुआ.

इन सबके बीच सबसे हैरानी वाली प्रतिक्रिया स्कूल की प्रिंसिपल की तरफ से आया है. मिशनरी स्कूल की प्रिंसिपल डोयल से जब इस घटना के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, 'इस घटना को छोड़िए, समझौता कराया जा रहा है.'

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें