scorecardresearch
 

दिल्ली: पैसे के लिए दोस्तों के साथ मिलकर मां-बाप का किया कत्ल

दिल्ली के जामिया नगर में कुछ दिनों पहले हुए बुजुर्ग दंपति की हत्या का पुलिस ने खुलासा कर दिया है. पुलिस ने हत्या के आरोप में दंपति के बेटे और उसके दोस्त को गिरफ्तार किया है. उसने पैसों की खातिर अपने दोस्त के साथ बुजुर्ग माता-पिता की हत्या कर दी थी.

X
बुजुर्ग दंपति की हत्या का पुलिस ने किया खुलासा बुजुर्ग दंपति की हत्या का पुलिस ने किया खुलासा

दिल्ली के जामिया नगर में कुछ दिनों पहले हुए बुजुर्ग दंपति की हत्या का पुलिस ने खुलासा कर दिया है. पुलिस ने हत्या के आरोप में दंपति के बेटे और उसके दोस्त को गिरफ्तार किया है. उसने पैसों की खातिर अपने दोस्त के साथ बुजुर्ग माता-पिता की हत्या कर दी थी. पति-पत्नी की घर के अंदर संदिग्ध हालत में लाश मिली थी.

जानकारी के मुताबिक, 27 अप्रैल को दिल्ली पुलिस को जानकारी मिली कि जामिया नगर थाने के अंतर्गत आने वाले जाकिर नगर मे एक घर के फर्स्ट फ्लोर पर एक बुजुर्ग दंपति की मौत हो गई है. मृतक शमीम और तसलीन के बेटे अब्दुल रहमान ने उस वक्त पुलिस को बताया कि वो रात को घर आया, तो दरवाजा बंद मिला था.

उसे लगा कि मां-बाप सो गए हैं, इसलिए रात को वहां से चला गया. अगले दिन सुबह डोर वेल बजाई, लेकिन दरवाजा नहीं खुला. इसके बाद उसने अपने चाचा को सूचित किया. दोनों ने मिलकर दरवाजा तोड़ा, तो मां-बाप की मौत के बारे में पता चला. पुलिस ने मौके का मुआयना किया, लेकिन शव पर निशान नहीं होने से मामला संदिग्ध लगा.

पुलिस के सामने हत्या और आत्महत्या के बीच गुत्थी उलझी हुई मिली. पुलिस ने पोस्टमार्टम कराने के बाद मामले की तफ्तीश जारी रखी. 15 मई को दोबारा से रोहिणी की क्राइम टीम के साथ मौके का मुआयना किया. एक बार फिर अब्दुल रहमान से पूछताछ की गई. कुछ सबूतों के साथ कड़ाई से पूछताछ में अब्दुल टूट गया.

उसने अपने मां-बाप की हत्या की बात कबूल कर ली. उसने बताया कि उसे पैसों की सख्त जरूरत थी. उसके पिता ने उसे पैसे नहीं दिए, तो उसने अपने दो साथियों नदीम और गुड्डू के साथ मिलकर साजिश रची. 27 अप्रैल की रात को तकिये और चद्दर से दम घोट कर अपने मां-बाप की हत्या कर दी थी.

डीसीपी साऊथ ईस्ट चिन्मय बिसवाल ने बताया कि पूछताछ में पता चला कि अब्दुल रहमान की पहले शादी हुई थी, लेकिन नशे की वजह से तलाक हो गया था. 26 साल का अब्दुल 10वीं पास है. वह कई तरह के नशे करता है, जिसमें गांजा और स्मैक शामिल है. वह इसका आदि हो चुका है. इसलिए उसे हमेशा पैसों की जरूरत पड़ती थी.

यह भी पता चला कि अब्दुल ने फेसबुक के जरिए कानपुर की एक लड़की से दोस्ती की थी. इस रिश्ते के खिलाफ उसके मां-बाप थे. इसके चलते वह उनसे बेहद नाराज था. अब्दुल ने अपने दो साथी नदीम और गुड्डू को ढाई लाख की सुपारी दी. उनके साथ मिलकर अपने मां-बाप को मौत के घाट उतार दिया. लेकिन आखिरकार पकड़ा गया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें