scorecardresearch
 

एक ही परिवार के चार लोगों की बेरहमी से हत्या

ओडिशा के पुरी में एक ही परिवार के चार लोगों की बेरहमी के साथ हत्या कर दी गई. मृतकों की खून से लथपथ लाशें उनके घर से ही बरामद हुई. इस दिल दहला देने वाली घटना से पूरे इलाके में हडकंप मच गया. पुलिस अभी तक इस मामले में किसी को गिरफ्तार नहीं कर पाई है.

हत्या के लिए किसी धारदार हथियार का इस्तेमाल किया गया हत्या के लिए किसी धारदार हथियार का इस्तेमाल किया गया

ओडिशा के पुरी में एक ही परिवार के चार लोगों की बेरहमी के साथ हत्या कर दी गई. मृतकों की खून से लथपथ लाशें उनके घर से ही बरामद हुई. इस दिल दहला देने वाली घटना से पूरे इलाके में हडकंप मच गया. पुलिस अभी तक इस मामले में किसी को गिरफ्तार नहीं कर पाई है.

जिले के नगारा गांव में सेवानिवृत्त जिला इंस्पेक्टर दीनबंधु मल्लिक अपने परिवार के साथ रहते थे. उनकी घर में पत्नी के अलावा दो बेटियां थी. मंगलवार को उनके घर का दरवाजा बाहर से काफी देर तक बंद था. आस पास के लोगों को घर वाले दिखाई भी नहीं दिए. तब गांव वालों ने घर का दरवाजा बाहर से खोल कर देखा.

घर के मुख्य कमरे में 65 वर्षीय दीनबंधु मल्लिक उनकी पत्नी निर्मला और बेटियों की लाशें खून से सनी पड़ी थी. उनकी बड़ी बेटी सरस्वती 13 साल की थी जबकि छोटी बेटी परनिति 7 साल की थी. सभी के गले पर कटे के निशान थे. जिससे साफ था कि किसी धारदार हथियार से गला काटकर उनकी हत्या की गई थी. कमरे में चारों तरफ खून बिखरा पड़ा था.

पुरी के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जगन्नाथ प्रधान में बताया कि गांव वालों ने सूचना दी थी. पुलिस ने मौके पर जाकर शव कब्जे में ले लिए हैं. मामला गंभीर है इसलिए हर पहलू की जांच की जा रही है. प्रधान ने बताया कि अस्तारांगा थाना क्षेत्र में यह गांव आता है. जहां दो मंजिला भवन के प्रथम तल पर इस परिवार की लाशें मिली हैं.

-इनपुट भाषा

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें