scorecardresearch
 

नोएडा: हनीट्रैप में फंसाकर वसूला करते थे मोटी रकम, ऐसे हुआ खुलासा

नोएडा पुलिस ने एक ऐसे गिरोह का पर्दाफाश किया है जो पहले हनीट्रैप में फंसाते थे फिर उन्हें बलात्कार के झूठे केस में फंसाने की धमकी देकर मोटी रकम वसूला करते थे.

पुलिस की गिरफ्त में महिला पुलिस की गिरफ्त में महिला

  • मोहजाल में फंसाकर बलात्कार के आरोप में लूटते थे पैसे
  • नोएडा पुलिस ने किया खुलासा, गिरोह के 2 सदस्य गिरफ्तार

देशभर में आए दिन हनीट्रैप के मामले सामने आते रहते हैं, जिसमें कभी राजनेता, व्यापारी तो कभी साधु संत हनीट्रैप के जाल में फंस जाते हैं. ताजा मामला दिल्ली से सटे नोएडा से सामने आया है. यहां पुलिस ने एक ऐसे ही गिरोह का पर्दाफाश किया है जो लोगों को पहले हनीट्रैप में फंसाते थे फिर उन्हें बलात्कार के झूठे केस में फंसाने की धमकी देकर मोटी रकम वसूला करते थे.

पुलिस ने गिरोह की एक महिला व एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है. वहीं गिरोह की 2 अन्य महिलाएं व एक पुरूष अभी भी पुलिस की पकड़ से दूर हैं. पुलिस दावा कर रही है कि फरार लोगों को जल्दी गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

गिरफ्तार महिला बेहद ही शातिर किस्म की जालसाज है. ये लोगों को अपने मोहजाल में फंसाकर उन्हें बलात्कार के झूठे केस में फंसाने की धमकी देती थी और मोटी रकम वसूलने का गोरखधंधा चलाती थी. पुलिस ने उसे उसके एक साथी के साथ गिरफ्तार किया है.

वहीं इसके गैंग की 2 अन्य महिलाएं व एक पुरुष अभी पुलिस की पकड़ से दूर है. नोएडा के डीसीपी संकल्प शर्मा का कहना है कि मनोज नाम के एक व्यक्ति ने सेक्टर 39 थाने में लिखित शिकायत दर्ज कराई थी कि गिरीश चंद, धीरेंद्र, शिवानी, खुशी व निशा ने उसे एक फार्म हाउस पर ले जाकर धोखे से उसकी अश्लील वीडियो बना ली थी.

इसके बाद उसे बलात्कार के झूठे केस में फंसाने की धमकी देकर उससे 5 लाख रुपये की डिमांड करने लगे और जब उसने देने से मना किया तो गिरीश चंद और धीरेंद्र ने उसके साथ जमकर मारपीट की. इसके बाद उसने उन्हें 1 लाख रुपये देकर अपना पीछा छुड़ाया.

राम मंदिर ट्रस्ट को मिला पहला चंदा, मोदी सरकार ने दिया 1 रुपया नकद!

मनोज की शिकायत पर शिवानी और धीरेंद्र को गिरफ्तार कर लिया गया वहीं गिरीश चंद, खुशी व निशा की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं. जल्दी ही उन्हें भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

सिन्धु नदी को लेकर पाकिस्तान का भारत के खिलाफ ‘जल आतंकवाद’

पुलिस के मुताबिक कुछ समय पहले मनोज कुमार को आरोपी महिला द्वारा एक फार्म हाउस पर बुलाया गया था और फिर उसकी कुछ फोटो और वीडियो बना कर ब्लैकमेल किया गया. उससे बोला गया कि 5 लाख रुपए दो नहीं तो FIR करा देंगे. जब मनोज से पुलिस को शिकायत दी तो तुरंत करवाई करते हुए 2 लोगों को गिरफ्तार किया गया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें