scorecardresearch
 

MP: उज्जैन में लव जिहाद! 'विकास' निकला 'वसीम', ड्राइविंग लाइसेंस से खुली पोल

युवक ने महिला को अपना नाम 'वसीम' बताया था लेकिन हाल ही में जब महिला ने उसका पर्स चेक किया तो उसमें ड्राइविंग लाइसेंस पर उसका नाम 'वसीम' देख महिला का माथा ठनका और उसने पुलिस में जाकर इसकी शिकायत दर्ज करवाई.

X
एमपी में लव जिहाद का आरोप लगाने वाली महिला (फ़ोटो- आज तक)
एमपी में लव जिहाद का आरोप लगाने वाली महिला (फ़ोटो- आज तक)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • उज्जैन में सामने आया लव जिहाद का मामला
  • गलत नाम बताकर युवक करता रहा महिला का शोषण
  • ड्राइविंग लाइसेंस से सामने आई युवक की सच्चाई

मध्य प्रदेश के उज्जैन में लव जिहाद का एक मामला सामने आया है, जिसमें एक युवक नाम बदलकर तलाकशुदा महिला का 2 साल तक शारीरिक शोषण करता रहा. युवक ने अपनी गलत पहचान बताकर महिला से पहले दोस्ती की और फिर उसके साथ संबंध बनाए.

युवक ने महिला को अपना नाम विकास बताया था लेकिन हाल ही में जब महिला ने उसका पर्स चेक किया तो उसमें ड्राइविंग लाइसेंस पर उसका नाम वसीम देख महिला का माथा ठनका और उसने पुलिस में जाकर इसकी शिकायत दर्ज करवाई. 

दरअसल, महिला अपने पति से तलाक के बाद उज्जैन में रह रही थी. यहां 2 साल पहले उसकी मुलाकात विकास नाम के युवक से हुई जिसने उसे खुद को नागदा का रहने वाला बताया था. युवक बकायदा महिला के साथ मंदिर जाता, लेकिन बाहर ही खड़ा रहता था और वजह पूछे जाने पर खुद को नास्तिक बताता था. हाल ही में शक होने पर जब महिला में उसका पर्स खंगाला तो उसमें वसीम नाम से युवक का ड्राइविंग लाइसेंस मिला, जिसके बाद पीड़िता ने महिला थाने जाकर अपनी आपबीती बताई. 

पीड़ित महिला ने बताया, 'मुझे वसीम नाम का लड़का विकास नाम से मिला था. एक जया नाम करके लेडी से जो मेरे घर के सामने किराए पर रहती थी, उन्होंने मुझे कुछ मदद के लिए उससे मिलवाया था कि यह विकास है, आपकी मदद करेंगे. बाद में वह रिलेशन में जुड़ गया. उसने अपना हिन्दू नाम ही बताया और कहा कि वो राजपूत है. अभी 2 महीने पहले पता चला कि वह वसीम है और अपना नाम बदलकर मुझे शादी का झांसा देकर मेरा शोषण कर रहा था'. 

देखें- आजतक LIVE TV

वहीं इस मामले में उज्जैन के एएसपी अमरेन्द्र सिंह ने बताया कि 'महिला थाने के अंतर्गत एक पीड़िता ने अपनी शिकायत दर्ज कराई है और उसने यह आरोप लगाया है कि एक युवक ने नाम बदलकर  उसके साथ दोस्ती की और उसके बाद उसके साथ में गलत काम किया. दोनों लगभग 2 साल संपर्क में थे. अभी पीड़िता ने यहां पर आकर रिपोर्ट लिखवाई है, जिसके आधार पर महिला थाने के अंतर्गत एफआईआर दर्ज की गई है. फिलहाल आरोपी की तलाश की जा रही है.' 

आपको बता दें कि जल्द ही मध्य प्रदेश में भी लव जिहाद के खिलाफ कानून बनने जा रहा है, जिसका नाम होगा 'धर्म स्वतंत्र अधिनियम 2020.' इसके तहत किसी भी लड़की या महिला के साथ नाम बदलकर और धोखे में रखकर शादी करने पर कार्रवाई की जाएगी और आरोप सिद्ध होने पर आरोपी को जेल की हवा खानी पड़ेगी. एमपी की शिवराज सरकार 28 दिसंबर से शुरू होने जा रहे विधानसभा सत्र में लव जिहाद के खिलाफ विधेयक लाने जा रही है. 

ये भी पढ़ें

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें