scorecardresearch
 

कहीं पैसों के लिए तो नहीं किया गया था शीना का मर्डर?

पूर्व मीडिया दिग्गज पीटर मुखर्जी से सीबीआई ने शुक्रवार को छह घंटे पूछताछ की है. जांच एजेंसी यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि पीटर और इंद्राणी मुखर्जी द्वारा स्थापित मीडिया हाउस से पैसे निकालकर शीना बोरा के विदेशी खाते में जमा करने के बाद ही क्या उनके बीच विवाद पैदा हुआ, जो अंतत: शीना की मौत की वजह बना.

पीटर मुखर्जी से सीबीआई ने शुक्रवार को छह घंटे पूछताछ की पीटर मुखर्जी से सीबीआई ने शुक्रवार को छह घंटे पूछताछ की

पूर्व मीडिया दिग्गज पीटर मुखर्जी से सीबीआई ने शुक्रवार को छह घंटे पूछताछ की है. जांच एजेंसी यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि पीटर और इंद्राणी मुखर्जी द्वारा स्थापित मीडिया हाउस से पैसे निकालकर शीना बोरा के विदेशी खाते में जमा करने के बाद ही क्या उनके बीच विवाद पैदा हुआ, जो अंतत: शीना की मौत की वजह बना.

सीबीआई सूत्रों ने बताया कि जांच एजेंसी ने पीटर को उनके और इंद्राणी द्वारा भरे गए आयकर रिटर्न दिखाए ताकि भारत और विदेश में उनके निवेशों का पता चल सके. हालांकि यह भी स्पष्ट किया कि इस समय शीना की हत्या के पीछे किसी भी सटीक संभावित मंशा के बारे में कुछ कह पाना संभव नहीं है. अलग-अलग एंगल पर काम हो रहा है.

बताते चलें कि अप्रैल, 2012 में इंद्राणी मुखर्जी , उसके पूर्व पति संजीव खन्ना और पूर्व ड्राइवर श्यामवर राय ने शीना बोरा की हत्या करके उसके शव को जंगल में दफना दिया था. शीना इंद्राणी के पहले विवाह से पैदा हुई संतान थी. सीबीआई ने दावा किया था कि पीटर, इंद्राणी और शीना के बीच पैसों के लेन-देन की वजह से इस हत्याकांड को अंजाम दिया गया हो.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×