scorecardresearch
 

योगी राज में RSS प्रचारक की बहन से छेड़छाड़, सदमे में छोड़ी पढ़ाई

यूपी के बांदा में RSS प्रचारक के रिश्ते की बहन के साथ छेड़छाड़ का सनसनीखेज मामला सामने आया है. इस घटना के नौ दिन बीत जाने के बाद भी आरोपियों पर कार्रवाई न होने से खौफजदा लड़की की पढ़ाई बंद हो गई है.

यूपी के बांदा में हुई सनसनीखेज वारदात यूपी के बांदा में हुई सनसनीखेज वारदात

यूपी के बांदा में RSS प्रचारक के रिश्ते की बहन के साथ छेड़छाड़ का सनसनीखेज मामला सामने आया है. इस घटना के नौ दिन बीत जाने के बाद भी आरोपियों पर कार्रवाई न होने से खौफजदा लड़की की पढ़ाई बंद हो गई है. पीड़िता की मां का कहना है कि वह अपना सम्मान बचाए या पढ़ाई करवाए. पीड़िता सोते से उठकर 'बचाओ बचाओ' चिल्लाकर रोने लगती है.

पीड़ित बच्ची ने कहा कि यदि पुलिस हमारी रक्षा नहीं कर सकती तो हमें पढ़ाई रोकनी पड़ रही है. दुख की बात ये है कि पीड़िता के साथ 11 दिसंबर की घटना से दो दिन पहले ही 9 तारीख को वह डीजीपी सुलखान सिंह से नारी सुरक्षा सप्ताह के कार्यक्रम में मिलकर लौटी थी. वहां पुलिस के बड़े-बड़े अफसरों ने स्कूली लड़कियों की सुरक्षा पर बड़े-बड़े वादे किए थे.

पीड़ित लड़की के साथ घटना 11 दिसंबर की शाम तब घटी जब वह ट्यूशन पढ़कर वापस लौट रही थी. नदी किनारे शराब पी रहे 6-7 शोहदों ने उसे बुरी नीयत से पीछे से दबोच लिया. वह किसी तरह वहां से भागी और अपनी इज्जत बचाई. पीड़िता रोजाना 5 किमी की दूरी तय कर पैदल स्कूल आती-जाती है. इस दौरान नाव से रास्ते मे पड़ने वाली नदी पार करनी होती है.

लड़की ने बहादुरी का परिचय देते हुए शोहदों की गाड़ी का नंबर UP90 L5734 याद रखा. थाने में शिकायत दर्ज कराने के दौरान उसका जिक्र भी किया. लेकिन पुलिस ने आरोपियों को पकड़ने की बजाए कार्रवाही की रस्म अदायगी शुरू कर दी. यह मामला पैलानी थाने के सिंधन गांव का है. इसकी जानकारी होने पर एसपी शालिनी ने मौके पर दो सीओ को भेजा है.

पीड़िता ने बताया, 'हम बहुत डरे हुए हैं. पढ़ाई पूरी तरह से बंद है. आरोपी खुलेआम घूम रहे हैं. पुलिस आती है और आरोपियों के घर चाय नाश्ता करके चली जाती है. 10 दिन हो गए पुलिस कुछ नहीं कर रही है. यदि हम अपनी इज्जत चाहते हैं तो हमें आगे की पढाई बंद करनी ही पड़ेगी. बहुत गुस्सा आ रहा है. हम चाह कर भी कुछ नहीं कर पा रहे हैं.'

लड़की के पिता ने बताया कि उनकी बेटी 11वीं में पढ़ती है. स्कूल जाते समय रास्ते में नदी पड़ती है. उसे नाव से पार करना होता है. वारदात वाले दिन गांव में कुछ शोहदों ने उसके साथ छेड़खानी की. हमने थाने में शिकायत दर्ज कराई, लेकिन कुछ नहीं हुआ. मैं गुजरात में नौकरी करता हूं. मेरा भांजा RSS में प्रांत प्रचारक है. उसके बताया, तो मदद का भरोसा दिया है.

डिप्टी एसपी राजीव प्रताप सिंह ने कहा कि यह सिंधन गांव का मामला है. पीड़िता के पिता की तहरीर पर आरोपियों के खिलाफ 354, 504 और पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज कर लिया गया है. एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है, शेष तीन को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा. यदि बच्ची ने स्कूल जाना छोड़ दिया है, तो हम खुद उसकी सुरक्षा सुनिश्चित करेंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें