scorecardresearch
 

मेरठ: घर में पेट्रोल डालकर लगाई आग, सो रहे परिवार के 6 लोग झुलसे

खबरों के मुताबिक कुछ अज्ञात लोगों ने खिड़की से पाइप को घर में घुसाकर उसके जरिए पेट्रोल फैला दिया और फिर जलती हुई माचिस अंदर फेंककर आग लगा दी. इस हमले में महिला और उसके 5 बच्चे गंभीर रूप से घायल हो गए हैं.

सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर

  • महिला समेत 5 बच्चे आग से झुलस गए
  • एक की हालत नाजुक, दिल्ली भेजा गया
  • पति ने छोड़ा, मजदूरी का काम करती है

मेरठ में मंगलवार रात एक घर पर कुछ अज्ञात लोगों ने आग लगा दी जिस कारण घर के अंदर सो रहे 6 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए. इस घटना में एक महिला समेत उसके 5 बच्चे झुलस गए जिसमें एक की हालत गंभीर बताई जा रही है.

यह घटना मेरठ के खरखौदा क्षेत्र के जाहिदपुर गांव की है जहां मंगलवार रात एक परिवार घर में सो रहा था कि कुछ अज्ञात लोगों ने उसके घर पेट्रोल डालकर आग लगा दी. आग लगाए जाने से घर में सो रहे 6 लोग बुरी तरह से झुलस गए. इस हादसे में 40 वर्षीय महिला और उसके 5 बच्चे गंभीर रूप से घायल हो गए जिसमें एक की हालत नाजुक बताई जा रही है और उसे इलाज के लिए दिल्ली भेज दिया गया है.

खबरों के मुताबिक कुछ अज्ञात लोगों ने खिड़की से पाइप को घर में घुसाकर उसके जरिए पेट्रोल फैला दिया और फिर जलती हुई माचिस अंदर फेंककर आग लगा दी.

8 साल पहले पति ने छोड़ा

घायल महिला रहमीन के पति ने आठ साल पहले ही उसे छोड़ दिया था और वह अपने 5 बच्चों की परवरिश के लिए बतौर मजदूर काम कर रही है.

खरखौदा पुलिस स्टेशन के थाना प्रभारी मनीष बिष्ट ने कहा, 'परिवार का कहना है कि उन्हें इस बारे में कुछ भी अंदेशा नहीं है कि इसे किसने अंजाम दिया है. उनकी किसी से कोई दुश्मनी नहीं थी. हम घायल महिला की स्थिति ठीक होने पर उससे इस संबंध में पूछताछ करेंगे.'

घायल महिला की दूर की रिश्तेदार फातिमा ने बताया कि रहमीन परिवार में एकमात्र कमाने वाली सदस्य है और जब वह काम पर नहीं होती थी तो ज्यादातर समय अपने बच्चों के साथ ही रहती थी. उसकी किसी से कोई दुश्मनी नहीं थी और हमें भी कुछ नहीं पता कि ऐसा किसने किया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें