scorecardresearch
 

क्लासमेट के पीछे दिल्ली से पहुंचा अमेरिका, 19 साल की जेल

नई दिल्ली से टेक्सास तक करीब एक दशक तक एक महिला का पीछा करने वाले भारतीय मूल के 32 वर्षीय व्यक्ति को अमेरिका में 19 साल कैद की सजा सुनाई गई है. कोलिन काउंटी के जिला अटॉर्नी ग्रेग विलिस ने बुधवार को जितेंद्र सिंह के बारे में ये फैसला सुनाया है.

X
आरोपी जितेंद्र सिंह को मिली सनक की सजा आरोपी जितेंद्र सिंह को मिली सनक की सजा

नई दिल्ली से टेक्सास तक करीब एक दशक तक एक महिला का पीछा करने वाले भारतीय मूल के 32 वर्षीय व्यक्ति को अमेरिका में 19 साल कैद की सजा सुनाई गई है. कोलिन काउंटी के जिला अटॉर्नी ग्रेग विलिस ने बुधवार को जितेंद्र सिंह के बारे में ये फैसला सुनाया है.

विलिस ने कहा कि ज्यूरी ने पीडि़ता के एक दशक से चले आ रहे पीछा किए जाने वाले बुरे सपने का अंत कर दिया है. जितेंद्र की मुलाकात पीडि़ता से सबसे पहले दिल्ली में कॉलेज में पढ़ने के दौरान हुई थी. वे दोनों सिर्फ क्लासमेट ही थे. लेकिन जितेंद्र ने वर्ष 2006 में पीड़िता से शादी के लिए पूछा था.

उन्होंने कहा कि पीड़िता ने प्रस्ताव को अस्वीकार कर दिया था, जिससे उसका गुस्सा भड़क गया. उसने पीड़िता का घर तक पीछा करना शुरू कर दिया. जब तक वह स्नातक नहीं हो गई, तब तक वह उसे धमकाता रहा. वर्ष 2007 में पीड़िता ने न्यूयॉर्क यूनिवर्सिटी में पढ़ाई के लिए भारत छोड़ दिया.

इसके बाद भी जितेंद्र सिंह की की सनक खत्म नहीं हुई. अधिकारियों का कहना है कि उसने भारत में पीडि़ता के पिता को प्रताड़ित और उत्पीड़ित किया. उसको भारत में अपराधों के लिए दोषी करार दिया गया था, लेकिन उसने अधिकारियों से अपील और समझौता किया था कि वह पीडि़ता से दूर रहेगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें