scorecardresearch
 

पंजाब पुलिस की बड़ी लापरवाही, दो बेगुनाहों को गोली मारी

पंजाब के मलेरकोटला के पास देर रात गोली लगने से दो सगे भाई बुरी तरह से घायल हो गए. घायलों के परिजनों का आरोप है कि दोनों भाई पुलिस की फायरिंग का शिकार हुए हैं. दोनों भाईयों को लुधियाना के डीएमसी अस्पताल में भर्ती कराया गया है. जहां एक की हालत नाजुक बनी हुई है. हालांकि पुलिस इस मामले से अनजान बन रही है.

संगरूर पुलिस अब इस मामले से अनजान बन रही है (फाइल फोटो) संगरूर पुलिस अब इस मामले से अनजान बन रही है (फाइल फोटो)

पंजाब के मलेरकोटला के पास देर रात गोली लगने से दो सगे भाई बुरी तरह से घायल हो गए. घायलों के परिजनों का आरोप है कि दोनों भाई पुलिस की फायरिंग का शिकार हुए हैं. दोनों भाईयों को लुधियाना के डीएमसी अस्पताल में भर्ती कराया गया है. जहां एक की हालत नाजुक बनी हुई है. हालांकि पुलिस इस मामले से अनजान बन रही है.
 
संगरूर जिले के रहने वाले दो भाई सतिंदर कुमार उर्फ़ हैप्पी और सुनील कुमार उर्फ़ हनी देर रात मलेरकोटला से शेरपुर जा रहे थे. इसी दौरान मलेरकोटला तहसील के पास पहुंचते ही उन पर गोलियां चलने लगी. फायरिंग की वजह से दोनों भाई बुरी तरह जख्मी हो गए. घायलों के परिजनों का आरोप है कि संगरूर पुलिस मलेरकोटला में किसी गैंगस्टर का पीछा कर रही थी. जो एक फोर्ड फिगो कार में सवार था. गैंगस्टर अंधेरे का फायदा उठा कर भाग निकला. लेकिन उसी रास्ते पर जा रहे सतिंदर कुमार और सुनील कुमार की कार पर पुलिस ने बिना कुछ सोचे समझे गोलियां बरसा दी.

दूसरी तरफ संगरूर पुलिस इस मामले से अनजान बन रही है. उच्च पुलिस अधिकारियों का कहना है कि उन्हें ऐसी किसी भी घटना के बारे में जानकारी नहीं हैं. पुलिस को यह भी नहीं पता कि किसी गोली कांड में दो लोग घायल भी हुए हैं. यही बात पुलिस पर शक की बुनियाद है. पुलिस अब इस मामले पर और कुछ कहने को तैयार नहीं है. पुलिस के इस कारनामे से एक बार फिर पंजाब पुलिस की बड़ी लापरवाही उजागर हुई है. अभी तक इस घटना की कोई एफआईआर भी दर्ज नहीं हुई है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें