scorecardresearch
 

UP: टाइल्स मिस्त्री मर्डर केस का खुलासा, ADM का बेटा निकला सुपारी किलर

टाइल्स मिस्त्री राजेश रावत के मर्डर सुपारी लेने वाला युवक कोई पेशेवर अपराधी नहीं बल्कि आगरा के एडीएम का बेटा निकला. इस मामले में पुलिस ने 5 लोगों को गिरफ्तार किया है.

ADM का बेटा सुपारी लेकर करता था मर्डर ADM का बेटा सुपारी लेकर करता था मर्डर

लखनऊ पुलिस टाइल्स मिस्त्री राजेश रावत की मर्डर मिस्ट्री को सुलझाने का दावा कर रही है. राजेश के बेटे ने ही अपने पिता के कत्ल की सुपारी दी थी. सुपारी लेने वाला युवक कोई पेशेवर अपराधी नहीं बल्कि आगरा के एडीएम का बेटा निकला. इस मामले में पुलिस ने 5 लोगों को गिरफ्तार किया है.

मिली जानकारी के मुताबिक, बीते 8 अगस्त को पीजीआई इलाके में टाइल्स मिस्त्री राजेश रावत का अधजला शव बरामद हुआ था. राजेश के गले पर धारदार हथियार से वार किए जाने के निशान थे. शव के पास से बरामद हुए पैन कार्ड के जरिए राजेश की पहचान हुई. पुलिस ने केस की तफ्तीश शुरू की और आरोपियों की तलाश में जुट गई.

आखिरकार पुलिस कातिलों के गिरेबां तक पहुंच गईं और हत्या में शामिल 5 आरोपियों को धर दबोचा. राजेश की हत्या अमित उर्फ आर्यन ने दोस्तों के साथ मिलकर की थी. आर्यन को इस हत्या के लिए राजेश के बेटे गुलशन ने 1 लाख रुपये की सुपारी दी थी. हैरानी वाली बात यह है कि आर्यन आगरा के एडीएम (फूड और सिविल सप्लाई) नरेंद्र सिंह का बेटा है.

आरोपियों के पास से घटना में प्रयुक्त कार भी बरामद हुई है. पुलिस के मुताबिक, राजेश ने अपनी पत्नी को छोड़ दिया था. जिसके बाद उसका एक महिला से अफेयर चल रहा था. इस बात से नाराज गुलशन ने आर्यन को अपने पिता की सुपारी दे डाली. आर्यन ने राजेश को काम के बहाने फोन कर मिलने के लिए बुलाया.

जैसे ही राजेश उससे मिलने आया, आर्यन और उसके साथियों ने राजेश की गर्दन पर चाकू से वार कर उसकी हत्या कर दी. हत्या के बाद आरोपियों ने शव को सीवर में फेंककर आग लगा दी, जिससे शव की पहचान न हो सके. आरोपियों ने हत्या में प्रयुक्त कार को भी जंगल ले जाकर जला दिया. पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है.

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें