scorecardresearch
 

दो समलैंगिक लड़कियों ने रचाई शादी, कोर्ट में पहुंचा मामला

कहते हैं प्यार अंधा होता है. वह जाति, धर्म और लिंग से परे होता है. जी हां, कुछ ऐसा ही मामला यूपी के कानपुर में सामने आया है. यहां दो लड़कियों ने घर से भागकर समलैंगिक शादी रचा ली. शादी के बाद लड़कियों ने व्हाट्स एप के जरिए जब अपनी सेल्फी परिजनों को भेजी तब जाकर मामले का खुलासा हुआ. अब परिजन उनका विरोध और पुलिस उन्हें परेशान कर रही है. मामला हाईकोर्ट पहुंच चुका है.

X
कानपुर में घर से भागकर समलैंगिक शादी रचाने वाली दो लड़कियों को पुलिस परेशान कर रही है. कानपुर में घर से भागकर समलैंगिक शादी रचाने वाली दो लड़कियों को पुलिस परेशान कर रही है.

कहते हैं प्यार अंधा होता है. वह जाति, धर्म और लिंग से परे होता है. जी हां, कुछ ऐसा ही मामला यूपी के कानपुर में सामने आया है. यहां दो लड़कियों ने घर से भागकर समलैंगिक शादी रचा ली. शादी के बाद लड़कियों ने व्हाट्स एप के जरिए जब अपनी सेल्फी परिजनों को भेजी तब जाकर मामले का खुलासा हुआ. अब परिजन उनका विरोध और पुलिस उन्हें परेशान कर रही है. मामला हाईकोर्ट पहुंच चुका है.

जानकारी के मुताबिक, रेलबाजार में रहने वाली अमशाला परवीन कानपुर के एक कॉलेज में स्नातक की पढ़ाई कर रही है. कॉलेज में उसके साथ अभिलाषा गुप्ता भी पढ़ती है. दोनों के बीच पहले दोस्ती हुई, फिर प्यार हो गया. धीरे-धीरे प्यार परवान चढ़ा और एक दिन दोनों अपने घर से भाग निकली. दिल्ली जाकर दोनों ने समलैंगिक शादी कर ली. दो समुदायों से आने वाली इन छात्राओं की शादी से परिजन गुस्से में हैं.

गुस्से में है परिवार
थाना प्रभारी श्रवण यादव के मुताबिक, मो. नसीम ने थाने में अपनी बेटी के अपहरण की शिकायत दर्ज कराई है. लड़कियों की तलाश में पुलिस टीम ने यूपी और दिल्ली में कई जगह छापे मारे. लड़कियों को बरामद कर उनके परिजनों को सौंप दिया गया. मामले को लेकर दोनों ही परिवारों के सदस्य काफी गुस्से में हैं. लड़कियों की समलैंगिक शादी के बारे में उन्होंने कुछ भी बोलने से इनकार कर दिया.

हाईकोर्ट पहुंचा मामला
घर से भागकर समलैंगिक शादी वाली दोनों लड़कियों ने अपने परिजनों के खिलाफ हाई कोर्ट में अपील की है. उनका कहना है कि दोनों साथ रहना चाहती हैं, लेकिन पुलिस और परिवार उनके लिए दुश्मन बने हुए हैं. बताते चलें कि भारत में अभी समलैंगिकता को मान्यता नहीं मिली है. यहां समलैंगिक शादी एक अपराध है. हालांकि, अमेरिका जैसे कुछ मुल्कों में इसे कानूनी मान्यता मिल चुकी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें