scorecardresearch
 

UP के मोस्टवांटेड विकास दुबे को हमने गिरफ्तार किया, 8 घंटे की पूछताछ: उज्जैन पुलिस

उज्जैन के एसपी ने कहा कि उत्तर प्रदेश के मोस्टवांटेड अपराधी विकास दुबे को हमने गिरफ्तार किया है. विकास दुबे कानपुर का रहने वाला है. विकास दुबे को लेकर पूरे देश में अलर्ट था. और दो दिन पहले मैंने पुलिस कंट्रोल रुम में बैठकर सबको अलर्ट किया था.

उज्जैन पुलिस ने विकास दुबे को किया गिरफ्तार (फाइल फोटो) उज्जैन पुलिस ने विकास दुबे को किया गिरफ्तार (फाइल फोटो)

  • मोस्टवांटेड अपराधी विकास दुबे को हमने गिरफ्तार किया: उज्जैन पुलिस
  • विकास दुबे से हमने 8 घंटे पूछताछ की, यूपी एसटीएफ को सौंपा: एसपी मनोज सिंह

गैंगस्टर विकास दुबे को लेकर मध्य प्रदेश की उज्जैन पुलिस ने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस की. उज्जैन के एसपी मनोज कुमार सिंह ने कहा कि उत्तर प्रदेश के मोस्टवांटेड अपराधी विकास दुबे को आज हमने गिरफ्तार किया है. हमने विकास दुबे से 8 घंटे पूछताछ की. उसे यूपी एसटीएफ को सौंप दिया गया.

मनोज कुमार सिंह ने कहा कि विकास दुबे कानपुर का रहने वाला है. विकास दुबे को लेकर पूरे देश में अलर्ट था. और दो दिन पहले मैंने पुलिस कंट्रोल रूम में बैठकर सबको अलर्ट किया था.

ऐसे पकड़ में आया विकास दुबे

एसपी मनोज सिंह ने विकास दुबे की गिरफ्तारी की जानकारी दी. एसपी ने कहा कि उज्जैन में गुंडा विरोधी अभियान चल रहा है. हमने जून में 100 गुंडों के खिलाफ कार्रवाई की है. बाहर से जो भी गुंडे आ रहे हैं हम तलाशी कर रहे हैं. मनोज सिंह ने कहा कि आज विकास दुबे महाकाल मंदिर में दर्शन करने पहुंचा, वहां राजेश माली के दुकान पर वह फूल-प्रसाद लेने पहुंचा. क्योंकि टीवी पर चल रहा था तो उसके चेहरे से माली अवगत था.

ये भी पढ़ें- UP एसटीएफ ने विकास दुबे को हिरासत में लिया, कानपुर लेकर आ रही पुलिस

मनोज सिंह ने कहा कि माली ने महाकाल परिसर में प्राइवेट सिक्योरिटी एजेंसी के गार्ड राहुल और धर्मेंद को फोन किया. विकास दुबे ने दर्शन के लिए 250 रुपये का टिकट भी लिया. हम लोग महाकाल बाबा के दर्शन के लिए ऑनलाइन पूरी व्यवस्था किए हैं. ऑनलाइन पास बनवाने के बाद ही कोई अंदर जाता है और वीआईपी दर्शन के लिए अलग से व्यवस्था है. और उसी व्यवस्था के तहत उसने 250 रुपये का टिकट लिया.

ये भी पढ़ें- लखनऊ में विकास दुबे की पत्नी और बेटा हिरासत में, नौकर भी दबोचा गया

एसपी मनोज सिंह ने कहा कि इसके बाद प्राइवेट सिक्योरिटी एजेंसी के गार्ड्स ने महाकाल परिसर थाने को जानकारी दी. दर्शन करने के बाद जैसे ही विकास दुबे बाहर आया तो गार्ड्स ने उससे उसका नाम पूछा. विकास दुबे ने अपना नाम गलत बताया. जब गार्ड्स को शक हुआ तो उन्होंने गंभीरता से विकास दुबे से पूछताछ की. बाद में उसने बताया कि वो विकास दुबे है. इसके बाद उसको थाने ले जाया गया. वरिष्ठ अधिकारी भी थाने पहुंचे और उसे गंभीर पूछताछ हुई.

विकास दुबे से 8 घंटे हुई पूछताछ

मनोज सिंह ने कहा कि हमने कानपुर के एसएसपी से संपर्क किया. यूपी एसटीएफ से हमारी बात हुई. बात करने के बाद हमने उसका फोटो मंगवाया. बाद में यूपी एसटीएफ उज्जैन पहुंची. हमने विकास दुबे को एसटीएफ के हवाले कर दिया है. एसटीएफ विकास दुबे को लेकर कानपुर रवाना हो गई है.

उज्जैन के एसपी ने कहा कि हमने विकास दुबे को पहले हिरासत में रखा. उससे हमने गहन पूछताछ की. 8 घंटे उससे पूछताछ हुई. पूछताछ में विकास दुबे ने क्या बताया, एसपी मनोज सिंह ने इसकी जानकारी नहीं दी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें