scorecardresearch
 

झारखंड: नाबालिग से रेप पर जुर्माना लगाने वाली पंचायत प्रमुख सहित 14 गिरफ्तार

पुलिस ने बताया कि घटना में संलिप्त अन्य संदिग्धों, आरोपियों और पंचायत प्रतिनिधियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है.

पंचायत प्रमुख महिला गिरफ्तार पंचायत प्रमुख महिला गिरफ्तार

झारखंड के चतरा जिले में एक नाबालिग बच्ची के साथ गैंगरेप के बाद जलाकर हत्या किए जाने के मामले में पुलिस ने कुल 14 लोगों को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार होने वाले आरोपियों में रेप के बाद पंचायत कर आरोपियों पर जुर्माना लगाने वाली गांव की मुखिया तिलेश्वरी देवी भी शामिल हैं.

पुलिस ने बताया कि घटना में संलिप्त अन्य संदिग्धों, आरोपियों और पंचायत प्रतिनिधियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है. चतरा के DCP जीतेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि पीड़ित परिवार को हर हाल में इंसाफ दिलाया जाएगा. नाबालिग के शव का पोस्टमार्टम करवाया गया है और दोषियों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी.

बता दें कि बीते गुरुवार को चतरा के बनथू गांव में चचेरी बहन की शादी में शरीक होने आई 16 साल की एक लड़की से गैंगरेप किया गया. परिजनों की शिकायत पर पंचायत ने आरोपियों को महज जुर्माना लगाकर छोड़ दिया. इसके बाद आरोपियों ने शुक्रवार को परिजनों के सामने ही रेप पीड़िता को जलाकर मार डाला.

पीड़िता चतरा के कोनी पंचायत के राजा केंदुआ गांव की रहने वाली थी. पीड़ित परिवार ने ईटखोरी थाने में गांव के ही 12 लोगों के खिलाफ रेप और हत्या का केस दर्ज करवाया है.

चचेरी बहन की शादी में गई थी पीड़िता

पीड़िता अपने चचेरी बहन की शादी में शरीक होने बनथू गांव गई हुई थी. वहां रात 8 बजे घन्नू भुइयां नामक युवक अपने चार साथियों के साथ वहां आया और शादी के बीच से लड़की को अगवा कर अपने साथ ले गया. फिर पांचों ने मिलकर एक सुनसान जगह पर लड़की के साथ गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया और मौके से भाग निकले.

इस घटना के बाद में रात के करीब 11 बजे पीड़ित लड़की रोती हुई अपने घर पहुंची. उसने परिजनों को आपबीती सुनाई. जिसे सुनकर घर वाले सन्न रह गए. पीड़िता परिवालों ने मामले की शिकायत पंचों से की. घटना को लेकर शुक्रवार को पंचायत बुलाई गई.

रेप की सजा 100 बार उठक-बैठक, 50 हजार रुपये

पंचायत ने रेप आरोपियों को पुलिस को सौंपने की बजाय पीड़ित परिवार और आरोपी परिवार के बीच समझौता करवा दिया. पंचायत की मुखिया तिलेश्वरी देवी ने रेप के आरोपी पांचों युवकों को सिर्फ 100-100 बार उठक-बैठक की सजा सुनाई. वहीं मुख्य आरोपी घन्नू भुईयां को उठक-बैठक के अलावा महज 50 हजार रुपये का जुर्माना लगाकर छोड़ दिया गया.

घर में घुसकर पीड़िता को जिंदा जलाया

आर्थिक दंड लगाए जाने से घन्नू भुइयां, उसके घरवाले और उसके दर्जनों साथी आक्रोशित हो गए. पंचायत के थोड़ी देर बाद आरोपी खिड़की तोड़कर लड़की के घर में घुस गए. आरोपियों ने पीड़िता के घरवालों के सामने ही लड़की के ऊपर केरोसिन छिड़ककर उसे जिंदा जला डाला.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें