scorecardresearch
 

शाहबेरी केस: फरार चल रही आरोपी महिला गिरफ्तार, बेचे थे 30 अवैध फ्लैट

फ्लैट अवैध करार दिए जाने के बाद खरीदारों ने मनु टंडन के खिलाफ धोखाधड़ी कर पैसे ऐंठने का मुकदमा दर्ज कराया था.

प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर

  • गाजियाबाद के विजयनगर से हुई गिरफ्तारी
  • बिल्डिंग गिरने से हुई थी 9 लोगों की मौत

ग्रेटर नोएडा के वेस्ट में शाहबेरी गांव के करीब अवैध फ्लैट बेचने के मामले में फरार चल रही महिला आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. आरोपी मनु राकेश टंडन को गाजियाबाद के फ्लैट नंबर-1301 टॉवर डी-1 सुपरटेक सोसाईटी विजय नगर से गिरफ्तार किया गया है.  वह 30 अवैध फ्लैट बेचने के मामलों में आरोपी थी.

बताया जाता है कि मनु राकेश टंडन ने अपने पति के साथ मिलकर ग्राम शाहबेरी में करीब 30 फ्लैट तैयार करा कर लोगों को महंगी कीमत पर बेचा था. इसका नक्शा भी ग्रेटर नोएडा विकास प्राधिकरण से पास कराया गया था. इन फ्लैट्स को बाद में अवैध करार दे दिया गया था.

फ्लैट अवैध करार दिए जाने के बाद खरीददारों ने मनु टंडन के खिलाफ लोगों के साथ धोखाधड़ी कर पैसे ऐंठने का मुकदमा दर्ज कराया था. तभी से पुलिस मनु की तलाश कर रही थी, लेकिन वह फरार चल रही थी.

manu_093019120904.jpgगिरफ्तार अभियुक्त मनु राकेश टंडन

बता दें कि ग्रेटर नोएडा वेस्ट में स्थित ग्राम शाहबेरी में करीब 30 फ्लैट तैयार कर लोगों को महंगे दामों पर बेचा गया था. उसी शाहबेरी में स्थित दो बिल्डिंग गिरने से नौ लोगों की दबकर मौत हो गई थी . इस प्रकरण की जांच के में इस प्रोजेक्ट को अवैध करार दे दिया गया था.

लगेगा गैंगस्टर, एनएसए के तहत होगी कार्रवाई

पुलिस सूत्रों की मानें तो शासन के आदेशानुसार अभियुक्ता और उसके पति के खिलाफ गैंगस्टर और राष्ट्रीय सुरक्षा एक्ट (एनएसए) के तहत कार्रवाई की जाएगी. गौरतलब है कि पुलिस को मनु टंडन की काफी समय से तलाश थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें