scorecardresearch
 

युवती ने की आत्महत्या, परिवार ने केंद्रीय मंत्री पर लगाए संगीन आरोप

यूपी के मुजफ्फरनगर में एक युवती ने प्रताड़नाओं से तंग आकर खुदकुशी कर ली. मामला युवती के पिता से लूट और उसके परिवार को प्रताड़ित किए जाने से जुड़ा है. मृतका की मां का आरोप है कि उनके परिवार को उजाड़ने में एक केंद्रीय मंत्री का हाथ है.

मृतका की मां ने केंद्रीय मंत्री पर लगाए आरोप मृतका की मां ने केंद्रीय मंत्री पर लगाए आरोप

यूपी के मुजफ्फरनगर में एक युवती ने प्रताड़नाओं से तंग आकर खुदकुशी कर ली. मामला युवती के पिता से लूट और उसके परिवार को प्रताड़ित किए जाने से जुड़ा है. मृतका की मां का आरोप है कि उनके परिवार को उजाड़ने में एक केंद्रीय मंत्री का हाथ है.

टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक, मामला मुजफ्फरनगर के कोतवाली नई मंडी थाना क्षेत्र के अंकित विहार कॉलोनी का है. मृतका का नाम महिमा था. गुरुवार को महिमा ने उसके परिवार को प्रताड़ित किए जाने से तंग आकर खुदकुशी कर ली. खुदकुशी करने से पहले महिमा ने घर की दीवार पर लिखा, 'मेरे भाई अक्षय को वापस लाकर दो.'

मृतका की मां संजी देवी ने बताया कि उसके पति देवप्रकाश एक बीजेपी नेता की कंपनी में काम करते हैं. चार दिन पहले वह कंपनी के काम से लखनऊ गए थे. परिवार की मानें तो रास्ते में कुछ बदमाशों ने देवप्रकाश के पास रखे कंपनी के साढ़े चार लाख रुपये लूट लिए थे.

देवप्रकाश ने लखनऊ पुलिस और कंपनी के मालिक को घटना की जानकारी दे दी थी. दो दिन बाद भी जब देवप्रकाश घर नहीं लौटे तो उनका बेटा अक्षय अपने पिता की तलाश में निकला, लेकिन वह भी नहीं लौटा. जिसके बाद पीड़ित परिवार ने पुलिस से इसकी शिकायत की.

कंपनी के मालिक ने पति और बेटे को बनाया बंधक
मृतका की मां का आरोप है कि कंपनी के मालिक ने उनके पति और बेटे को बंधक बनाया हुआ है. संजी देवी ने इस मामले में एक केंद्रीय मंत्री का हाथ होने की बात कहकर सनसनी फैला दी. उनका आरोप है कि यह सब एक केंद्रीय मंत्री के इशारे पर किया गया है और पुलिस मंत्री के दबाव की वजह से आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं कर रही है.

मृतका की मां ने दी आत्महत्या की चेतावनी
संजी देवी ने पुलिस प्रशासन को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर उनके पति और बेटे को जल्द रिहा नहीं किया गया तो वह सीएम के यहां अपनी बेटी के साथ आत्महत्या कर लेंगी. वहीं इस पूरे मामले में केंद्रीय मंत्री ने अपनी सफाई देते हुए कहा कि 'इस मामले में अपना नाम घसीटे जाने से वह हैरान हैं.'

पुलिस ने मृतका की मां के आरोपों को बताया निराधार
मंत्री ने इसे राजनीतिक साजिश करार देते हुए कहा, 'वह महिला और उसके परिवार को जानते तक नहीं हैं.' वहीं पुलिस ने मृतका की मां के आरोपों को निराधार बताया. एसपी सिटी राजेश कुमार का कहना है कि देवप्रकाश से लूट होने की रिपोर्ट लखनऊ में दर्ज की गई है. उन्होंने बताया, देवप्रकाश बुधवार को थाने आए थे. उनके साथ कंपनी के लोग भी थे, हालांकि उनका बेटा जरूर गायब है. पुलिस उसकी तलाश में जुटी हुई है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें