scorecardresearch
 

गैंगरेप के बाद महिला ने की थाने के पास खुदकुशी

ओडिशा के मयूरभंज में गैंगरेप की शिकार बनने के बाद एक आदिवासी महिला ने थाना से महज 100 मीटर की दूरी पर पेड़ से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. इस घटना से गुस्साई भीड़ ने पुलिसकर्मियों पर हमला कर दिया. इसके बाद इस मामले में केस दर्ज किया गया. पुलिस पर हमले के जुर्म में 23 लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

इस घटना से गुस्साई भीड़ ने पुलिसकर्मियों पर हमला कर दिया इस घटना से गुस्साई भीड़ ने पुलिसकर्मियों पर हमला कर दिया

ओडिशा के मयूरभंज में गैंगरेप की शिकार बनने के बाद एक आदिवासी महिला ने थाना से महज 100 मीटर की दूरी पर पेड़ से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. इस घटना से गुस्साई भीड़ ने पुलिसकर्मियों पर हमला कर दिया. इसके बाद इस मामले में केस दर्ज किया गया. पुलिस पर हमले के जुर्म में 23 लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

जानकारी के मुताबिक, महिला खुटा बस पड़ाव पर बुधवार शाम को आई थी. उसके बाद लापता हो गई. वह केंदुमुंदेई गांव स्थित अपने घर लौटने के लिए किसी सार्वजनिक परिवहन का इंतजार कर रही थी, अगले दिन सुबह वह महिला निर्वस्त्र नजर आई. इसके बाद में उसने अपनी जान ले ली. इस घटना को लेकर स्थानीय लोग आक्रोशित हो गए.

लोगों ने दोषियों की गिरफ्तारी की मांग करते हुए थाने में तोड़फोड़ की और पुलिसकर्मियों पर हमला किया. इसमें खुंटा थाना के प्रभारी निरीक्षक उत्तम मोहंती, उप निरीक्षक सुमति मोहंती, एक सहायक उप निरीक्षक, दो महिला कांस्टेबल, एक कांस्टेबल की भीड़ ने पिटाई की. पुलिस अधीक्षक अनूप कृष्णा मौके पर अतिरिक्त बल के साथ पहुंचे.

पुलिस ने बताया कि एक महिला कांस्टेबल ने हिंसा करने वाली भीड़ में शामिल लोगों के खिलाफ केस दर्ज कराया है. इसमें 12 महिलाओं सहित कुल 23 लोग गिरफ्तार किए गए हैं. उन्हें आज अदालत में पेश किया गया. कोर्ट ने सभी की जमानत याचिका खारिज कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया. महिला के साथ हुई घटना के मामले में भी केस दर्ज किया गया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें