scorecardresearch
 

'पश्चिम बंगाल में 15 दिनों में रेप' वाले बयान पर घिरीं BJP सांसद रूपा गांगुली, FIR दर्ज

एक महिला की शिकायत पर निमता पुलिस स्टेशन ने आईपीसी की धारा 505 और 506 के तहत रूपा गांगुली के खिलाफ केस दर्ज किया है. पुलिस मामले की जांच कर रही है. इसके अलावा, विपक्षी नेताओं ने भी उनके बयान की काफी आलोचना की है.

रूपा गांगुली के खिलाफ केस दर्ज रूपा गांगुली के खिलाफ केस दर्ज

पश्चिम बंगाल में महिलाओं के रेप होने से जुड़ी विवादास्पद टिप्पणी पर बीजेपी सांसद रूपा गांगुली टीएमसी के निशाने पर हैं. एक महिला की शिकायत पर रूपा गांगुली के खिलाफ नॉर्थ 24 परगना जिले में मामला दर्ज किया गया है.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, एक महिला की शिकायत पर निमता पुलिस स्टेशन में आईपीसी की धारा 505 और 506 के तहत केस दर्ज किया गया है. पुलिस मामले की जांच कर रही है. विपक्षी नेताओं ने भी उनके बयान की काफी आलोचना की है.

क्या था मामला

बताते चलें कि सांसद रूपा गांगुली ने कहा था, 'मैं सभी पार्टियों और ममता सरकार का समर्थन करने वाले लोगों को यही बोलूंगी कि अपनी बहू-बेटियों को बिना ममता का समर्थन लिए 15 दिन के लिए बंगाल भेज दें और अगर वे बिना रेप का शिकार हुए वापस लौट जाएं तो मैं देखूंगी.'

बयान पर कायम है रूपा गांगुली

विवादास्पद बयान को लेकर चौतरफा घिरीं रूपा गांगुली आलोचना के बावजूद अपने रुख पर कायम हैं. शनिवार को दिए अपने ताजा बयान में उन्होंने कहा, 'असल में 15 दिन भी ज्यादा हैं, उससे कम वक्त में ही बंगाल जाने वाली महिलाएं रेप की शिकार हो जाएंगी.'

बीजेपी ने किया बचाव

रूपा गांगुली के बयान के बाद बीजेपी नेता उनका बचाव करते नजर आए. बीजेपी नेता राहुल सिन्हा ने कहा, 'लोगों को शाब्दिक अर्थ पर जाने के बजाए भावनाओं को समझना चाहिए. जो रूपा ने कहा, वह गलत नहीं है. राज्य में महिलाओं की स्थिति बेहद खराब है.'

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें