scorecardresearch
 

मध्य प्रदेश में 48 करोड़ रुपये की ड्रग्स बरामद, 3 लोग गिरफ्तार

मध्य प्रदेश के इंदौर और धार जिले के औद्योगिक क्षेत्र पीथमपुर से मंगलवार को 236 किलोग्राम ड्रग्स (एफ्रेडीन) बरामद की गई. इस मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

मध्य प्रदेश मध्य प्रदेश

मध्य प्रदेश के इंदौर और धार जिले के औद्योगिक क्षेत्र पीथमपुर से मंगलवार को 236 किलोग्राम ड्रग्स (एफ्रेडीन) बरामद की गई. इस मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है. अंतर्राष्ट्रीय बाजार में इस ड्रग्स की कीमत 48 करोड़ रुपये बताई गई है.

200 किलो ग्राम एफ्रेडीन बरामद
यह बड़ी कार्रवाई डायरेक्टोरेट ऑफ रेवेन्यू इंटेलीजेंस (डीआरआई) इंदौर के दल ने की है. डीआरआई सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक मंगलवार को धार जिले के औद्योगिक क्षेत्र पीथमपुर में एक बंद पड़ी फैक्ट्री में निजी लैब चलाई जा रही थी. वहां दबिश में 200 किलो ग्राम एफ्रेडीन बरामद की गई.

सिंहस्थ कुंभ के लिए ड्रग्स
इसके अलावा इंदौर के राउ क्षेत्र में स्थित सिलीकॉन सिटी में दबिश में 36 किलोग्राम एफ्रेडीन मिली. इस मामले में तीन लोगों को हिरासत में लिया गया है. आशंका जताई जा रही है कि ड्रग्स की इतनी बड़ी खेप उज्जैन में चल रहे सिंहस्थ कुंभ में खपाने के लिए लाई गई थी.

बीमारियों के इलाज में उपयोग
बताया गया कि पीथमपुर से ड्रग्स के 12 ड्रम मिले हैं. वहीं सिलीकॉन सिटी में ड्रग्स पाउडर के रूप में मिली है. इसका इस्तेमाल अस्थमा और फेफड़े से जुड़ी बीमारियों के इलाज में किया जाता है. इसे सीमित मात्रा में सिरप और दवा में मिलाया जाता है.

रेव पार्टी नशे के लिए होता है इस्तेमाल
इसका उपयोग वजन कम करने के लिए और तमाम खिलाड़ी अपना प्रदर्शन सुधारने के लिए भी अवैध रूप से करते हैं. इसका उपयोग युवा रेव पार्टी आदि में नशे के लिए भी करते हैं. इस नशीली दवा की आपूर्ति अवैध तरीके से मुख्य रूप से थाईलैंड और दक्षिण पूर्वी एशिया में की जाती है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें