scorecardresearch
 

दिल्ली को गंदा करोगे तो जाओगे जेल, राजधानी की सफाई में जुटी पुलिस

दिल्ली पुलिस अब चिंता में है. जी हां, पुलिस अब दिल्ली की खूबसूरती को लेकर चिंता में है. दरअसल दिल्ली पुलिस राजधानी की दीवारों पर पोस्टर लगाने वालों पर सख्त हो गई है. पुलिस अब शहर में पोस्टर लगाने वालों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर रही है.

दिल्ली पुलिस अब कर रही है राजधानी की सफाई दिल्ली पुलिस अब कर रही है राजधानी की सफाई

दिल्ली पुलिस अब चिंता में है. पुलिस की चिंता का सबब है दिल्ली की खूबसूरती. दरअसल दिल्ली पुलिस राजधानी की दीवारों पर पोस्टर लगाने वालों पर सख्त हो गई है. पुलिस अब शहर में पोस्टर लगाने वालों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर रही है.

पुलिस के मुताबिक, हर जगह दीवारों पर पोस्टर लगाए जाने से दिल्ली बदरंग हो रही है. इसलिए पुलिस ने दिल्ली की दीवारों पर पोस्टर लगाने वालों पर कड़ी नजर रखना शुरू कर दिया है. दिल्ली में एमसीडी चुनाव होने वाले हैं. लिहाजा अलग-अलग पार्टियों के उम्मीदवारों ने चुनाव प्रचार की सामग्री यानी पोस्टर आदि से पूरी दिल्ली को पाट दिया है.

बीजेपी, कांग्रेस और आम आदमी पार्टी उम्मीदवारों के बैनर, पोस्टर और होर्डिंग्स से दिल्ली रंगी हुई नजर आ रही है. पुलिस ने पटेल नगर, रंजीत नगर, प्रसाद नगर और आसपास के इलाकों में पोस्टर चिपकाने वाले कुछ लोगों को गिरफ्तार किया है. वहीं पोस्टर चिपकाए जाने के मामले में दिल्ली के अलग-अलग जिलों में भी कई मुकदमे दर्ज किए गए हैं.

गौरतलब है कि बीते दो दिनों में ही इस संबंध में 15 से ज्यादा मुकदमे दर्ज किए गए हैं. दिल्ली की सफाई में जुटी पुलिस ने अभी तक दिल्ली की दीवारों पर से 115 बैनर, 85 होर्डिंग्स हटाए हैं. साथ ही दीवारों से सैकड़ों पोस्टरों को फाड़कर हटाया गया है. पुलिस इस काम में दूसरी एजेंसियों की भी मदद ले रही है.

बताते चलें कि इस मुहिम में दिल्ली पुलिस चुनावी पोस्टरों के साथ-साथ धार्मिक आयोजनों आदि से जुड़े पोस्टर भी हटा रही है. इस मामले में साल 2007 में एक कानून भी बनाया गया था, जिसे '2007 डिफेसमेंट एक्ट' कहते हैं. इस कानून के उल्लंघन पर एक साल की सजा या पचास हजार रुपये जुर्माना या फिर दोनों की सजा का प्रावधान है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें