scorecardresearch
 

दिल्ली पुलिस ने मोस्टवांटेड राशिद को एयरपोर्ट से दबोचा

कुख्यात गैंगस्टर राशिद केबल वाले पर एक लाख का इनाम घोषित था. वह उत्तर पूर्वी दिल्ली के नासिर गैंग का एक खतरनाक शूटर है. राशिद पहली बार 2013 में पकड़ा गया था. उस समय दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने राशिद को छैनू गैंग के बदमाश अकिल मामा के कत्ल के आरोप में पकड़ा था.

मोस्टवांटेड राशिद गिरफ्तार (फोटो- हिमांशु मिश्रा) मोस्टवांटेड राशिद गिरफ्तार (फोटो- हिमांशु मिश्रा)

दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच की स्पेशल टास्क फोर्स ने कुख्यात गैंगस्टर राशिद केबल वाले को दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से गिरफ्तार कर लिया है. वह देश छोड़कर भागने की फिराक में था.

राशिद केबल वाले पर एक लाख का इनाम घोषित था. वह उत्तर पूर्वी दिल्ली के नासिर गैंग का एक खतरनाक शूटर है. राशिद पहली बार 2013 में पकड़ा गया था. उस समय दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने राशिद को छेनू गैंग के बदमाश अकिल मामा के कत्ल के आरोप में पकड़ा था. दरअसल, उत्तर पूर्वी दिल्ली में नासिर गैंग और छेनू गैंग में पिछले 8 वर्षों से खूनी गैंगवार चल रही है, जिसमें कई लोग मारे जा चुके हैं.

राशिद ने अकिल मामा को अपने गैंग के मुखिया नासिर के कहने पर मारा था. जमानत पर बाहर आने के बाद राशिद केबल वाले ने अपने साथियों के साथ मिलकर अप्रैल 2017 में मोहम्मद कमर और इमरान की गोली मारकर हत्या कर दी थी. इसके बाद राशिद दुबई भाग गया था. जब कोर्ट ने इसे भगोड़ा घोषित किया, तो इसने दुबई में अपना पासपोर्ट खो जाने की रिपोर्ट दर्ज कराई और नया पासपोर्ट जारी करा लिया.

इसके बाद ये आराम से बैंकॉक के रास्ते भारत आया-जाया करता था, लेकिन इस बार पुलिस को इसके मूवमेंट की जानकारी मिल गई और पुलिस ने एयरपोर्ट से ही दबोच लिया. दिल्ली पुलिस के मुताबिक राशिद पर हत्या के चार मामलों के अलावा कई दूसरे मामले भी दर्ज हैं. पुलिस का कहना है कि राशिद से लगातार पूछताछ की जा रही है और इसके गैंग के दूसरे सदस्यों की तलाश जारी है. पुलिस यह भी पता लगा रही है कि उसके और उसके गैंग के पास इतने अत्याधुनिक हथियार कहां से आते हैं?

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें