scorecardresearch
 

चोरों ने पहले कैमरा तोड़ा, फिर लगाया 40 लाख का चूना

चोरों ने सीसीटीवी से बचने के लिए न सिर्फ मंकी कैप का इस्तेमाल किया, बल्कि उनके फिंगरप्रिंट न आ सकें, इसके लिए हाथों में ग्लब्स पहने थे.

प्रतीकात्मक फोटो प्रतीकात्मक फोटो

दिल्ली में सीसीटीवी के रडार से बचने के लिए चोरों ने अपने मंसूबों में कामयाब होने का एक नया तरीका निकाला है. वक्त और टारगेट के हिसाब से चोरी के तरीकों में बदलाव वाले शातिर चोरों ने इस बार अपना शिकार करने के लिए मंकी कैप का सहारा लिया है.

द्वारका के सेक्टर 7 में चोरों ने इसी तरीके से एक घटना को अंजाम दिया है. चोरों ने सीसीटीवी से बचने के लिए न सिर्फ मंकी कैप का इस्तेमाल किया, बल्कि उनके फिंगरप्रिंट न आ सकें, इसके लिए हाथों में ग्लब्स पहने थे. इस तरह चोरों ने एक कैमरा लैब पर हाथ साफ कर दिया. हालांकि, पूरी घटना सीसीटीवी में कैद हो गई.

ऐसा किया हाथ साफ

चोरों ने पहले लैब के बाहर लगे सीसीटीवी कैमरे की तार काटी. हालांकि, वो इस बात से अंजान थे कि लैब के अंदर भी सीसीटीवी लगा है. और बड़े ही आराम से उन्होंने लैब में मौजूद करीब 40 लाख के समान पर हाथ कर दिया. चोरी किए सामान में स्टिल और वीडियो कैमरे के अलावा दूसरा महंगा सामान भी था. ये घटना बीती 4-5 जनवरी की है. जिसका सीसीटीवी अब सामने आया है.

बता दें कि द्वारका इलाके में चोरी की घटनाएं लगातार बढ़ती जा रही हैं. पुलिस चोरों को कंट्रोल नहीं कर पा रही है. जांच की लकीर पिटती रह जाती हैं और चोर हाथ साफ कर फुर्र हो जाते हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें