scorecardresearch
 

पुलिस का थर्ड डिग्री टॉर्चर, महिला के प्राइवेट पार्ट में डाली बीयर की बोतल

नर्सिंग होम की मालकिन ने उस पर चोरी का इल्जाम लगाकर केस दर्ज करवा दिया. जिसके बाद पुलिस ने हैवानियत की हद पार करते हुए आरोपी महिला के प्राइवेट पार्ट में बीयर की बोतल और मिर्च डाल दी.

केस की जांच के लिए कोर्ट ने SIT का गठन किया है केस की जांच के लिए कोर्ट ने SIT का गठन किया है

महिलाओं पर हो रहे दिल दहला देने वाले अत्याचार की एक घटना जम्मू से सामने आई है. यहां एक महिला नर्सिंग होम में सफाई का काम करती थी. कुछ दिन पहले महिला ने नौकरी छोड़ दी. नर्सिंग होम की मालकिन ने उस पर चोरी का इल्जाम लगाकर केस दर्ज करवा दिया. जिसके बाद पुलिस ने हैवानियत की हद पार करते हुए आरोपी महिला के प्राइवेट पार्ट में बीयर की बोतल और मिर्च डाल दी.

पीड़ित महिला ने बताया, पुलिस ने चोरी के आरोप में उसकी मां, पति समेत कई परिजनों को गिरफ्तार किया था. पीड़िता की मानें तो थाने में उसके कपड़े भी उतारे गए. इतना ही नहीं, कानाचक थाने के एसएचओ राकेश शर्मा ने उसे पेशाब पिलाने की भी कोशिश की.

पीड़ित महिला को अस्पताल में भर्ती करवाया गया है. इस बीच घटना की जानकारी मिलते ही महिला संगठन की कार्यकर्ता पीड़िता से मिलने अस्पताल पहुंचीं. उन्होंने एसएचओ राकेश शर्मा और अन्य आरोपी पुलिसकर्मियों पर कड़ी कार्रवाई की मांग की.

वहीं महिला कांग्रेस की कार्यकर्ताओं ने अस्पताल के बाहर प्रदर्शन भी किया. केस की जानकारी मिलते ही कोर्ट ने जांच के लिए एसआईटी का गठन किया. जम्मू के एसएसपी डॉक्टर सुनील गुप्ता ने कहा, कोर्ट के आर्डर पर मेडिकल बोर्ड ने पीड़िता का मेडिकल करवाया और रिपोर्ट कोर्ट को सौंप दी है.

एसएसपी डॉक्टर गुप्ता ने बताया कि आरोपी एसएचओ राकेश शर्मा को थाने से हटाकर पुलिस लाइन भेज दिया गया है, ताकि केस की जांच प्रभावित न हो सके. एसआईटी ने पीड़िता के बयान दर्ज कर लिए हैं. साथ ही टीम आरोपी पुलिसकर्मियों के भी बयान दर्ज कर रही है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें