scorecardresearch
 

चंडीगढ़ छेड़छाड़ केसः CCTV फुटेज में लड़की की कार का पीछा करता दिखा विकास बराला

आपको बताते हैं कि घटनास्थल की शुरूआत से लेकर विकास और आशीष के पकड़े जाने वाले इलाके तक..सीसीटीवी लगे वह 9 पॉइंट, जहां से पुलिस को पुख्ता सबूत मिल सकते हैं.

X
पुलिस ने अब 5 इलाकों के CCTV मिलने की बात कही है पुलिस ने अब 5 इलाकों के CCTV मिलने की बात कही है

चंडीगढ़ में वरिष्ठ IAS की बेटी वर्णिका कुंडू के साथ हुई छेड़छाड़ के मामले में पुलिस को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. सोमवार देर रात पुलिस को इलाके के 5 सीसीटीवी फुटेज मिले हैं. इनके जरिए पुलिस को छेड़छाड़ के केस में सबूत जुटाने में काफी मदद मिलेगी.

डीएसपी सतीश कुमार ने एक ऑफिशियल स्टेटमेंट जारी कर बरामद सीसीटीवी फुटेज के बारे में बताया. ये सभी फुटेज उन कैमरों से मिले हैं जो छेड़छाड़ की वारदात वाले रास्ते पर लगे हैं. दरअसल इस केस में विकास बराला और उसके दोस्त को सजा दिलाने में सीसीटीवी फुटेज काफी अहम साबित हो सकती है.

केस की तफ्तीश के दौरान शुरूआत में चप्पे-चप्पे पर सीसीटीवी लगाने का दावा करने वाली चंडीगढ़ पुलिस का कहना था कि उन्हें इस मामले में कहीं कोई सीसीटीवी फुटेज बरामद नहीं हुई है, जबकि घटनास्थल के बीच 9 ऐसे पॉइंट हैं, जहां पुलिस को सीसीटीवी फुटेज मिलनी चाहिए थी.

शुरूआती जांच में पुलिस का ये भी कहना था कि 9 जगह पर लगे सीसीटीवी कैमरों में से 5 सीसीटीवी कैमरे खराब थे और बाकी 4 सीसीटीवी कैमरों में कुछ खास रिकॉर्ड नहीं हुआ. आपको बताते हैं कि घटनास्थल की शुरूआत से लेकर विकास और आशीष के पकड़े जाने वाले इलाके तक..सीसीटीवी लगे वह 9 पॉइंट, जहां से पुलिस को पुख्ता सबूत मिल सकते हैं.

पहला पॉइंट- सेक्टर 9 इंटरनल मार्केट की वाइन शॉप, जहां से आरोपी विकास बराला और आशीष ने शराब खरीदी.

दूसरा पॉइंट- सेक्टर 7 के पेट्रोल पंप और सेक्टर 7 की मार्केट, जहां आरोपी खुलेआम सड़क पर शराब पी रहे थे. उन्होंने यहीं से वर्णिका की कार के पीछे अपनी कार लगाई थी.

तीसरा पॉइंट- सेक्टर 26 खालसा कॉलेज के पास लाइट पॉइंट, जहां आरोपियों ने वर्णिका की कार के आगे अपनी कार लगाकर उसे रोकना चाहा.

चौथा पॉइंट- सेक्टर-26/7 का लाइट पॉइंट, जहां वर्णिका लगातार अपनी कार इधर-उधर दौड़ा रही थी. आरोपी अपनी सफारी कार से उसका पीछा करके उसकी कार के साथ-साथ चल रहे थे और उसे रुकवाने की कोशिश कर रहे थे.

पांचवां पॉइंट- मध्यमार्ग स्थित सेक्टर-26 ग्रेन मार्केट चौक, जहां आरोपी इस रेड लाइट पर भी वर्णिका की कार को ओवरटेक करके रुकवाने की कोशिश करते रहे.

छठा-सातवां पॉइंट- ट्रांसपोर्ट लाइट पॉइंट, जहां वर्णिका हिम्मत दिखाते हुए लगातार आगे बढ़ती रही और उसने अपने मोबाइल से 100 नंबर डायल करके चंडीगढ़ पुलिस कंट्रोल रूम को इस पूरे मामले की जानकारी दी.

आठवां पॉइंट- कलाग्राम लाइट पॉइंट. इस पॉइंट पर वर्णिका की कार को ओवरटेक करके रुकवाने की कोशिश की गई. इस दौरान आरोपी लगातार उसकी कार पर हाथ मार रहे थे.

नौवां पॉइंट- हाउसिंग बोर्ड लाइट इलाका, जहां पर पीसीआर वर्णिका की मदद के लिए पहुंची और सफारी कार में सवार विकास बराला और उसके दोस्त आशीष को अपनी हिरासत में ले लिया. इस दौरान वर्णिका पंचकुला की तरफ अपने घर के लिए आगे बढ़ गई और अपने पिता के साथ वापस चंडीगढ़ के सेक्टर 26 पुलिस स्टेशन पहुंची थी.

फिलहाल इस मामले के तूल पकड़ने के बाद पुलिस ने अब 5 जगहों के सीसीटीवी फुटेज मिलने की बात कही है. रसूखदार आरोपियों की न्याय से टक्कर होती देख अब यह देखना अहम होगा कि आखिर क्या उन 5 सीसीटीवी फुटेज में पुलिस को विकास बराला और उसके दोस्त की काली करतूत के सबूत मिलते भी हैं या नहीं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें