scorecardresearch
 

कानपुर मुठभेड़ के बाद विकास दुबे पर एक्शन, JCB से गिराया गया घर

यूपी पुलिस ने विकास दुबे के बिठुर स्थित आवास घर को गिराने का फैसला लिया है. जिसके बाद कानपुर स्थित यह घर गिराया गया है. विकास दुबे की तलाश में पुलिस की 20 टीमें अलग-अलग इलाकों में दबिश दे रही हैं. इन सभी इलाकों में विकास के परिवार वाले रहते हैं.

विकास दुबे के खिलाफ पुलिस की कार्रवाई तेज (फोटो-हरीश कांडपाल) विकास दुबे के खिलाफ पुलिस की कार्रवाई तेज (फोटो-हरीश कांडपाल)

  • गैंगस्टर विकास दुबे का घर गिराया गया
  • 12 लोगों से की जा रही है पूछताछ

आठ पुलिसकर्मियों की शहादत के बाद मुख्य आरोपी गैंगस्टर विकास दुबे की तलाश जारी है. वहीं, दूसरी तरफ कानपुर प्रशासन ने विकास दुबे के बिठुर स्थित आवास को गिरा दिया है. घर गिराने के लिए विकास दुबे की उसी जेसीबी का इस्तेमाल किया गया है, जिसके जरिए पुलिस टीम को घेरा गया था. इसके अलावा प्रशासन, विकास दुबे की सारी पॉपर्टी अटैच करने की तैयारी कर रहा है. प्रशासन उसकी सभी संपत्तियों की जांच करेगा. साथ ही सभी बैंक अकाउंट्स भी सीज किए जाएंगे.

विकास दुबे की तलाश में पुलिस की 20 टीमें अलग-अलग इलाकों में दबिश दे रही हैं. इन सभी इलाकों में विकास के परिवार वाले रहते हैं. नेपाल बॉर्डर पर भी अलर्ट जारी कर दिया गया है. विकास दुबे के फोटो चस्पा कर दिए गए हैं.

पुलिस ने अब तक इस मामले में पूछताछ के लिए 12 लोगों को हिरासत में लिया है. जिससे कि जल्द से जल्द विकास दुबे को पकड़ा जा सके. विकास दुबे के नेपाल भागने की भी आशंका है, लिहाजा लखीमपुर खीरी जिले की पुलिस भी अलर्ट पर है.

लखीमपुर खीरी की एसपी पूनम ने आजतक को बताया, 'विकास दुबे को लेकर नेपाल बॉर्डर पर अलर्ट कर दिया गया है. यहां नेपाल से जुड़ी 120 किमी की सीमा है, चार थाने हैं, हर जगह फोटो चस्पा कर दी गई है, एसएसबी के अधिकारियों से बात हो गई है. जिले के बॉर्डर पर भी अलर्ट है और जांच की जा रही है.'

जानिए कानपुर मुठभेड़ की Inside Story, इसलिए विकास दुबे को पकड़ने गई थी पुलिस

वहीं पुलिस ने मोबाइल कॉल डिटेल के आधार पर कई लोगों को हिरासत में लिया है, जिनसे पूछताछ जारी है. ये सभी वे लोग हैं जिन्होंने पिछले 24 घंटे में विकास दुबे से बात की थी.

विकास से बात करने वाले लोगों में कुछ पुलिस वालों के नंबर भी हैं. इसलिए इस बात की भी आशंका जाहिर की जा रही है कि जब पुलिस की टीम विकास दुबे से पूछताछ के लिए निकली थी तो किसी ने फोन कर इस बात की जानकारी पहले ही दे दी.

विकास दुबे पर 50 हजार का इनाम, मां बोली- बहुत गलत काम किया, मार दे पुलिस

जानकारी के मुताबिक पुलिस की जांच में आया है कि चौबेपुर थाने के ही एक दारोगा विनय तिवारी ने विकास को पुलिस के आने की जानकारी पहले दी थी. विनय तिवारी के खिलाफ एक्शन लेते हुए सस्पेंड कर दिया गया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें