scorecardresearch
 

मुजफ्फरपुर: रेप नहीं कर पाया तो किया आग के हवाले, 80 फीसदी जली युवती

बिहार के मुजफ्फरपुर में एक बार फिर हैवानियत का मामला सामने आया है. दुष्कर्म में असफल रहने पर एक शख्स ने पीड़िता को जिंदा जला दिया. पीड़िता का 80 फीसदी शरीर जल गया है.

सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर

  • पीड़िता को SKMCH अस्पताल में भर्ती करवाया गया
  • 80 फीसदी तक जल चुका है पीड़ता का शरीर

बिहार के मुजफ्फरपुर में एक बार फिर हैवानियत का मामला सामने आया है. दुष्कर्म में असफल रहने पर एक शख्स ने पीड़िता को जिंदा जला दिया. पीड़िता का 80 फीसदी शरीर जल गया है. पीड़िता को घायल अवस्था में SKMCH अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है. पुलिस मामले की जांच में जुटी है. घटना के विस्तृत ब्यौरे की प्रतीक्षा है.

हैदराबाद और उन्नाव के बाद यह तीसरी ऐसी घटना है जिसमें रेप पीड़िता को दरिंदो ने आग के हवाले कर दिया. हैदराबाद में वेटेनरी डॉक्टर के साथ पहले दुष्कर्म हुआ और फिर उसे जिंदा जला दिया गया. इस मामले में तेलंगाना पुलिस ने चारों आरोपियों को एक एनकाउंटर में मार गिराया.

वहीं, उत्तर प्रदेश के उन्नाव में भी बीते गुरुवार को ऐसे ही दिल दहला देने वाली घटना सामने आई, जहां एक दुष्कर्म पीड़िता को आरोपियों ने उसे जिंदा जलाने की कोशिश की. जिसके बाद पीड़िता को लखनऊ के सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया. पीड़िता 90 प्रतिशत तक झुलस चुकी थी.

इसके बाद को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में एयरलिफ्ट करके लाया गया जहां उसने शुक्रवार की रात 11.40 बजे दम तोड़ दिया. उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता के पार्थिव शरीर को रविवार दोपहर को हजारों शोक संतप्त लोगों की मौजूदगी में हिंदूपुर गांव के बाहरी इलाके में दफना दिया गया. परिवार वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के आश्वासन के बाद पीड़िता का अंतिम संस्कार करने के लिए तैयार हो गया.

पीड़िता की बहन ने प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत परिवार को दिए गए 25 लाख रुपये के मुआवजे और एक घर के आश्वासन के अलावा परिवार के एक सदस्य के लिए सरकारी नौकरी की मांग की है. गौरतलब है कि गुरुवार को युवती दुष्कर्म के मामले में पैरोकारी के लिए रायबरेली जा रही थी। तभी पांच लोगों ने उसपर ज्वलनशील पदार्थ डालकर उसे आग के हवाले कर दिया. पीड़िता इन्हीं पांचों के खिलाफ पैरोकारी के लिए जा रही थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें