scorecardresearch
 

चलती कार में बेखौफ बदमाशों ने की लूटपाट

दिल्ली में बेखौफ लुटेरों ने एक कार सवार युवक को बंदूक की नोक पर उसकी गाड़ी में बंधक बनाकर लूटपाट किया. इसके बाद उसकी पिटाई करके तड़के सुबह कार से धक्का देकर नीचे गिरा दिया. इसके बाद लुटेरे आराम से फरार हो गए. पुलिस इस मामले में केस दर्ज करके जांच कर रही है. अभी तक लुटेरों का कोई सुराग नहीं मिला है.

X
पीड़ित युवक जितेंद्र नेगी पीड़ित युवक जितेंद्र नेगी

दिल्ली में बेखौफ लुटेरों ने एक कार सवार युवक को बंदूक की नोक पर उसकी गाड़ी में बंधक बनाकर लूटपाट किया. इसके बाद उसकी पिटाई करके तड़के सुबह कार से धक्का देकर नीचे गिरा दिया. इसके बाद लुटेरे आराम से फरार हो गए. पुलिस इस मामले में केस दर्ज करके जांच कर रही है. अभी तक लुटेरों का कोई सुराग नहीं मिला है.

जानकारी के मुताबिक, सोमवार रात करीब 11.30 बजे महिपालपुर-वसंत कुंज रोड पर 35 वर्षीय जितेंद्र नेगी अपनी कार से जा रहे थे. उसी समय किसी ने उनकी कार को पीछे से जोरदार टक्कर मार दी. जितेन्द्र ने जैसे ही कार रोका, पीछे से 3 लोग आकर उसके सिर पर बंदूक तान दिए. एक शख्स ने उनकी गाड़ी की चाभी लेकर पीछे बैठने के लिए कहा.

इसके बाद दौड़ती कार में जितेंद्र से मारपीट और छीना-झपटी शुरू हो गई. जान से मारने की धमकी देकर लुटेरों ने पहले उसके गले की चैन निकलवाई. इसके बाद एटीएम से एक लाख रुपये निकलवाए. पूरी रात बर्बरता की इंतहा पार करने के बाद बदमाशों ने उसे सादिकपुर डिपो के पास फेंक दिया. करीब पांच घंटे तक वे घूमते रहे, लेकिन कहीं भी पुलिस नजर नहीं आई.

सड़क पर गिरने के बाद गंभीर रूप से घायल जितेंद्र ने लोगों से मदद की गुहार लगाई. राह चलते लोगों से 100 डायल करने के लिए मोबाइल मांगा, लेकिन किसी ने नहीं दिया. एक टैक्सी से को रोकने की कोशिश, लेकिन वो भी चलता बना. आखिरकार एक PCR वैन नजर आई. किसी तरह वह वहां पहुंचे और पुलिस को आपबीती बताई.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें