scorecardresearch
 

'पत्नी की हत्या कर देंगे जिहादी, बचा लो', वसीम रिजवी उर्फ जितेंद्र त्यागी ने जेल से लगाई गुहार

जितेंद्र नारायण त्यागी के ट्वीट में यूपी पुलिस पर भी आरोप लगाए गए हैं. इसके अलावा ट्वीट में एक प्रार्थना पत्र भी शेयर किया गया है जिसमें त्यागी की पत्नी ने अपने साथ हुए घटनाक्रम के बारे में लिखा है.

X
जितेंद्र नारायण त्यागी (वसीम रिजवी) जितेंद्र नारायण त्यागी (वसीम रिजवी)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • जितेंद्र नारायण त्यागी के ट्विटर अकाउंट से किया गया ट्वीट
  • पत्नी की जान को खतरा बताकर यूपी पुलिस पर भी लगाया आरोप

वसीम रिजवी उर्फ जितेंद्र नारायण त्यागी ने जेल से अपनी पत्नी की हत्या की आशंका जताते हुए मदद की गुहार लगाई है. त्यागी ने आरोप लगाया है कि जिहादी उनकी पत्नी की हत्या कर देंगे. इसी के साथ त्यागी ने न्याय की मांग भी की है. 

जानकारी के मुताबिक जितेंद्र त्यागी ने अपनी पत्नी फरहा फातिमा की हत्या की आशंका जताते हुए कई मौलानाओं के साथ यूपी पुलिस का भी इसमें शामिल होने का आरोप लगाया है और अपनी पत्नी की जान बचाने की गुहार भी लगाई है. वहीं लोगों से अपील भी की है पत्नी और पूरे परिवार को न्याय दिलाने में मदद करें. बता दें कि जितेंद्र त्यागी, हरिद्वार धर्म संसद हेट स्पीच के मामले में जेल में बंद हैं. 

जितेंद्र नारायण त्यागी के ट्विटर अकाउंट से किए गए ट्वीट में लिखा है, 'मैं जेल में हूं, उधर मेरी पत्नी को मौलानाओं ने मारपीट कर अपने घर से बाहर निकाल दिया. उनका साथ दिया यूपी पुलिस के मुसलमान ASI ज़ैदी ने. आपलोग मेरे परिवार का साथ दें, जिहादी मेरी पत्नी की हत्या भी कर सकते हैं. वह मेरे परिवार को डरा रहे हैं. मैं जेल में बंद हूं, आप लोग ही न्याय करें.' इस ट्वीट के साथ जितेंद्र त्यागी द्वारा दिया गया एक प्रार्थना पत्र भी शेयर किया गया है. 

बता दें कि हरिद्वार में आयोजित धर्म संसद के दौरान जहरीले बोल उगलने वाले आरोपी यति नरसिंहानंद और जितेंद्र त्यागी (वसीम रिज़वी) को उत्तराखंड़ पुलिस ने गिरफ्तारी के बाद जेल भेज दिया है. उन दोनों को हरिद्वार की रोशनाबाद जेल में रखा गया है. जितेंद्र त्यागी के खिलाफ आईपीसी की धारा 153 (ए), 298 के तहत कार्रवाई की गई है. दूसरे आरोपी यति नरसिंहानंद के खिलाफ आईपीसी की धारा 295 (ए) और 509 के तहत गिरफ्तार किया गया है. 

हेट स्पीच मामले में जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी के अलावा स्वामी धर्मदास, साध्वी अन्नपूर्णा, सिंधु सागर महाराज और यति नरसिंहानंद के खिलाफ हरिद्वार कोतवाली में मुकदमा दर्ज है. पुलिस का कहना है कि यति नरसिंहानंद को उसके खिलाफ दर्ज तीसरे मुकदमे के चलते गिरफ्तार किया गया है. जिसमें उसने महिलाओं के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी की थी.
 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें