scorecardresearch
 

कैबिनेट सचिव ने राज्यों के CS से कहा- श्रमिकों को कैंप लाकर ट्रेनों से भेजा जाए

वीडियो कॉन्फ्रेंस में मौजूद चेयरमैन रेलवे बोर्ड ने आश्वासन दिया कि राज्यों द्वारा त्वरित मंजूरी प्रदान करने पर अधिक संख्या में विशेष ट्रेनें शुरू की जा सकती हैं.

रांची में ट्रेन से उतरने के बाद घरों की ओर जाते मजदूर (फोटो-पीटीआई) रांची में ट्रेन से उतरने के बाद घरों की ओर जाते मजदूर (फोटो-पीटीआई)

  • लॉकडाउन 3.0 की मियाद आज खत्म होने वाली है
  • केंद्र से पहले कुछ राज्यों ने घोषित किया लॉकडाउन

लॉकडाउन 4.0 को ऐलान हो चुका है. इस बार 14 दिनों के लिए लॉकडाउन बढ़ाया गया है. इस ऐलान के बाद कैबिनेट सचिव राजीव गौबा ने लॉकडाउन 4.0 के गाइडलाइंस को लेकर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सभी राज्यों के मुख्य सचिवों/ महानिदेशकों से बातचीत की.

कैबिनेट सचिव राजीव गौबा ने सभी मुख्य सचिवों से कहा कि वे प्रवासी श्रमिकों की आवाजाही को सुविधाजनक बनाने के लिए अधिक श्रमिक स्पेशल ट्रेन चलाने में सहयोग करें. कैबिनेट सचिन ने कहा कि श्रमिकों को कैंप लाकर ट्रेनों से भेजा जाए. वहीं, वीडियो कॉन्फ्रेंस में मौजूद चेयरमैन, रेलवे बोर्ड ने आश्वासन दिया कि राज्यों द्वारा त्वरित मंजूरी प्रदान करने पर अधिक संख्या में विशेष ट्रेनें शुरू की जा सकती हैं.

गौरतलब है कि 24 मार्च को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जब पहली बार लॉकडाउन की घोषणा की थी तो देश में कोरोना वायरस के लगभग 300 मरीज थे. लगभग 53 दिनों बाद देश में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की कुल संख्या 90000 से ऊपर पहुंच गई है. .

कांग्रेस का दावा- 20 नहीं, 3.22 लाख करोड़ का है मोदी सरकार का स्पेशल पैकेज

पीएम मोदी ने 24 मार्च को कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए लॉकडाउन की घोषणा की थी. तब ये लॉकडाउन 21 दिनों के लिए था. इसके बाद लॉकडाउन 2 की घोषणा की गई. इसकी मियाद 3 मई तक थी. इसके बाद फिर लॉकडाउन को 2 हफ्ते के लिए बढ़ा दिया गया. अब आज लॉकडाउन-3 की आखिरी तारीख है.

महाराष्ट्र के बाद तमिलनाडु का भी ऐलान, 31 मई तक बढ़ाया गया लॉकडाउ

लॉकडाउन को लागू हुए भले ही 50 दिन से ज्यादा का वक्त हो चुका है, लेकिन कोरोना वायरस खत्म नहीं हुआ है. हां पिछले 50 दिनों में दूसरे देशों के मुकाबले में भारत में इसके संक्रमण की रफ्तार धीमी जरूर रही है.

महाराष्ट्र में 31 मई तक लॉकडाउन घोषित

महाराष्ट्र सरकार ने लॉकडाउन-4 का ऐलान कर दिया है. महाराष्ट्र के राहत और पुनर्वास विभाग ने इस संबंध में पत्र जारी किया है. बता दें कि महाराष्ट्र कोरोना वायरस से देश में सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य है. इसके मद्देनजर 31 मई तक फिर लॉकडाउन बढ़ा दिया गया है. राज्य सरकार ने कहा है कि कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने के लिए पहले से जारी किए गए सभी निर्देश अगले आदेश तक प्रभावी रहेंगे और पाबंदियों में ढील या लॉकडाउन हटाने की जानकारी उचित समय पर दी जाएगी.

तमिलनाडु-पंजाब में लॉकडाउन का ऐलान

महाराष्ट्र के बाद दक्षिण भारत के राज्य तमिलनाडु ने भी लॉकडाउन को 31 मई तक के लिए बढ़ा दिया. तमिलनाडु सरकार ने राज्य के 25 जिलों को विशेष राहत दी है. इनमें से कुछ जिले हैं कोयम्बटूर, सलेम, वेल्लोर, नीलगिरी, कन्याकुमारी, त्रिची, ईरोड, कृष्णानगरी, मदुरई इत्यादि. इन जिलों में लॉकडाउन बढ़ाने के साथ राज्य सरकार ने लोगों को कई तरह की राहत दी है. वहीं, पंजाब सरकार ने शनिवार को लॉकडाउन बढ़ाने का फैसला किया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें