scorecardresearch
 

कर्नाटक में सोनिया पर FIR, कांग्रेस पर PM केअर्स फंड की गलत जानकारी देने का आरोप

कोरोना संकट के बीच कर्नाटक के शिमोगा में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है. एक वकील की शिकायत पर ये एफआईआर हुई है.

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (फोटो: PTI) कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (फोटो: PTI)

  • कर्नाटक में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के खिलाफ FIR
  • कांग्रेस के ट्विटर अकाउंट पर गलत जानकारी देने का आरोप

देश इस वक्त कोरोना वायरस के महासंकट से जूझ रहा है और इस बीच कांग्रेस-भाजपा में सियासी घमासान भी जारी है. इसी घमासान के बीच कर्नाटक के शिमोगा जिले में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है. FIR में आरोप लगाया गया कि कांग्रेस पार्टी के द्वारा सोशल मीडिया पर गलत जानकारी फैलाई जा रही है.

दावा किया गया है कि 11 मई को कांग्रेस पार्टी की ओर से गलत दावे किए गए और केंद्र सरकार पर झूठे आरोप लगाए गए. इसमें प्रधानमंत्री केअर्स फंड से जुड़े कुछ आरोप लगाए गए, जो गलत थे.

इसी के आधार पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के खिलाफ आईपीसी की धारा 153, 505 के तहत ये एफआईआर दर्ज की गई है. एफआईआर में अपील की गई है कि सोनिया गांधी के खिलाफ कानूनी कार्यवाही होनी चाहिए. ये एफआईआर प्रवीण नामक एक स्थानीय वकील द्वारा दर्ज की गई है.

देश-दुनिया के किस हिस्से में कितना है कोरोना का कहर? यहां क्लिक कर देखें

s_052120113423.jpg

गौरतलब है कि कोरोना वायरस महासंकट के बीच कांग्रेस की ओर से लगातार मोदी सरकार पर आरोपों की बौछार की जा रही है. कांग्रेस की ओर से लगातार केंद्र सरकार पर राज्यों के साथ सौतेला बर्ताव करने का आरोप लगाया जा रहा है.

इसके अलावा कोरोना संकट के बीच प्रधानमंत्री केयर्स फंड की जानकारी सार्वजनिक करने की अपील की जा रही है. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, नेता राहुल गांधी की ओर से इस बारे में लगातार सोशल मीडिया के जरिए निशाना साधा जा चुका है. वहीं खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी चिट्ठी लिखी जा चुकी है.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

बता दें कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी इस मसले पर कई बार कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक भी कर चुकी हैं. जबकि आने वाले दिनों में देश की विपक्षी पार्टियों के साथ एक साझा बैठक करने की तैयारी है, जिसमें कोरोना संकट को लेकर चर्चा होगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें