scorecardresearch
 

माल्या बोले, खराब इंजन वाले विमानों की वजह से बंद हुई किंगफिशर एयरलाइंस

विमानन नियामक ‘नागर विमानन महानिदेशालय’ (डीजीसीए) ने भारत में परिचालन में प्रयुक्त कुछ एयरबस 320 नियो विमानों में पीएंडडब्ल्यू के इंजनों की विस्तृत जांच के आदेश दिए हैं,

माल्या का किंगफिशर मसले पर ट्वीट माल्या का किंगफिशर मसले पर ट्वीट

ब्रिटेन में रह रहे शराब कारोबारी विजय माल्या ने कहा कि किंगफिशर एयरलाइंस के विमानों के खराब इंजन उसके बंद होने की एक प्रमुख वजह थी. माल्या ने कहा कि प्रैट एंड विह्टनी (पीएंडडब्ल्यू) की एक समूह कंपनी पर किंगफिशर एयरलाइंस को खराब इंजनों की आपूर्ति करने के लिए कानूनी कार्रवाई की गई है.

गौरतलब है कि विमानन नियामक ‘नागर विमानन महानिदेशालय ’ (डीजीसीए) ने भारत में परिचालन में प्रयुक्त कुछ एयरबस 320 नियो विमानों में पीएंडडब्ल्यू के इंजनों की विस्तृत जांच के आदेश दिए हैं, डीजीसीए ने ऐसे इंजन वाले 21 विमानों 320 एयर बसों की जांच के विस्तृत जांच के आदेश दिए हैं. ये विमान और एयरबस इंडिगो और गो एयर कंपनी में सेवांए दे रहे हैं.

माल्या ने एक अन्य ट्वीट में कहा कि प्रैट एंड विह्टनी विमान इंजनों की डीजीसीए द्वारा जांच कराए जाने से अचंभित नहीं हूं. किंगफिशर एयरलाइंस भी दुर्भाग्य से खराब इंजनों की वजह से बंद हो गई. माल्या ने कहा कि हमने पीएंडडब्ल्यू समूह की आईएई पर मामला दर्ज कराया है, यह मामला किंगफिशर को खराब इंजनों की आपूर्ति करने के एवज में मुआवजा पाने के लिए दायर किया गया है. इस संबंध में पीएंडडब्ल्यू प्रवक्ता की ओर से कोई नहीं आया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें