scorecardresearch
 

5 महीने के निचले स्‍तर पर बंद हुआ सेंसेक्‍स, निवेशकों के डूबे 1.45 लाख करोड़

सप्‍ताह के चौथे कारोबारी दिन भारतीय शेयर बाजार में बड़ी गिरावट देखने को मिली. कारोबार के अंत में सेंसेक्‍स 463 अंक टूट गया.

निवेशकों के डूबे 1.45 लाख करोड़ निवेशकों के डूबे 1.45 लाख करोड़

भारतीय शेयर बाजार के लिए गुरुवार का दिन अच्‍छा नहीं रहा. सप्‍ताह के चौथे कारोबारी दिन सेंसेक्‍स 463 अंक गिरकर 37 हजार 18 पर बंद हुआ. वहीं, निफ्टी की बात करें तो 138 अंक टूटकर 10 हजार 980 के स्‍तर पर रहा. कारोबार के दौरान सेंसेक्‍स और निफ्टी 6 महीने के निचले स्‍तर पर आ गए. सेंसेक्‍स 5 महीने के निचले स्‍तर पर बंद हुआ. बीएसई इंडेक्‍स के सेंसेक्‍स में गिरावट की वजह से निवेशकों के कुछ ही घंटों में 1.45 लाख करोड़ रुपये से अधिक डूब गए.

कारोबार के अंत में वेदांता के शेयर 5 फीसदी से अधिक टूटकर बंद हुए. इसी तरह टाटा मोटर्स, एसबीआई और एयरटेल के शेयर में भी 4 फीसदी से अधिक की गिरावट दर्ज की गई. इसके अलावा यस बैंक, इन्‍फोसिस, टाटा स्‍टील और एलएंडटी के शेयर 2 फीसदी से अधिक गिरावट के साथ बंद हुए.

क्‍या है वजह

दरअसल, अमेरिकी फेड द्वारा ब्‍याज दरों में कटौती की वजह से भारतीय बाजार में दबाव देखने को मिला. वहीं रेटिंग एजेंसी क्रिसिल द्वारा जीडीपी ग्रोथ के अनुमान घटाए जाने की वजह से भी बाजार में सुस्‍ती दर्ज की गई. बता दें कि क्रिसिल ने जीडीपी ग्रोथ का अनुमान 0.20 फीसदी घटा दिया है.

कैफे कॉफी डे में 42 फीसदी की गिरावट

कैफे कॉफी डे (सीसीडी) नाम से कॉफी चेन चलाने वाली कंपनी कॉफी डे एंटरप्राइजेज के शेयर में गिरावट का दौर जारी है. गुरुवार को कंपनी के शेयर 12 फीसदी टूट गए. तीन दिनों में बीएसई में कंपनी का शेयर 42 फीसदी गिर चुके हैं. गुरुवार को कारोबार के अंत में कॉफी डे एंटरप्राइजेज के शेयर 110.95 रुपये के भाव पर बंद हुए. बता दें कि कंपनी के चेयरमैन वी.जी.सिद्धार्थ के सोमवार से लापता होने के बाद कंपनी के शेयरों में गिरावट जारी है. सिद्धार्थ का शव बुधवार की सुबह बरामद किया गया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें