scorecardresearch
 

ग्लोबल संकेतों पर सुस्त रहेगा शेयर बाजार

अमेरिकी बाजारों में बुधवार को सुस्त कारोबार और यूरोप में गिरावट के साथ बंद हुए बाजार के असर से गुरुवार सुबह एशियाई बाजारों में सुस्त शुरुआत हुई. इसका असर भारतीय बाजारों पर भी देखने को मिलेगा.

Symbolic Image Symbolic Image

अमेरिकी बाजारों में बुधवार को सुस्त कारोबार और यूरोप में गिरावट के साथ बंद हुए बाजार के असर से गुरुवार सुबह एशियाई बाजारों में सुस्त शुरुआत हुई. इसका असर भारतीय बाजारों पर भी देखने को मिलेगा.

सेंसेक्स और निफ्टी शुरुआती कारोबार में सुस्त रह सकते हैं, हालांकि शेयर मार्केट के जानकारों का मानना है कि यूरोप के बाजार खुलने के बाद एक बार बाजार में तेजी देखने को मिल सकती है.

अमेरिकी बाजार सुस्ती के साथ हुए बंद
बुधवार के कारोबारी सत्र में डाओ जोंस 8 अंकों की मामूली गिरावट के साथ बंद हुआ है . एसएंडपी 500 इंडेक्स एकदम सपाट होकर बंद हुए हालांकि नैस्डेक 5.5 अंक के साथ 4981.7 के स्तर पर बंद हुआ है. शेयर मार्केट के जानकारों का मानना है कि अमेरिकी बाजारों में गिरावट का रुख इस हफ्ते आए कमजोर आर्थिक आंकड़ों और बढ़ती यील्ड के कारण है. अमेरिकी बॉन्ड यील्ड एक बार फिर से 6 महीनों के उच्चतम स्तर पर ट्रेड कर रहा है. वहीं बुधवार को आए रिटेल सेल्स आंकड़े कमजोर रहने से बाजार पर दबाव देखने को मिला.

यूरोप के बाजारों में सुस्ती कायम
बुधवार को अमेरिका की तरह यूरोप के बाजार भी गिरावट के साथ बंद हुए. जर्मनी के कमजोर आर्थिक आंकड़ों से बाजारों पर दबाव दिखाई दिया. लंदन का बेंचमार्क इंडेक्स एफटीएसई 0.23 फीसदी बढ़कर 6,949 पर बंद हुआ है. वहीं, फ्रैंकफर्ट बेंचमार्क इंडेक्स डीएएक्स लगभग एक फीसदी की गिरावट के साथ बंद हुआ है.

एशियाई बाजारों में सुस्ती
अमेरिकी बाजारों में गिरावट से एशियाई बाजारों में दबाव दिखाई दे रहा है. जापान का निक्केई इंडेक्स 140 अंकों की गिरावट के साथ कारोबार कर रहा है. शंघाई कम्पोजिट में 0.1 फीसदी की मामूली गिरावट है और ताइवान इंडेक्स 0.7 फीसदी की गिरावट के साथ कारोबार कर रहा है. सिंगापुर निफ्टी 25 अंकों की गिरावट के साथ 8240 पर कारोबार कर रहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें