scorecardresearch
 

लॉकडाउन के बीच राहत की खबर, मार्च में भी खुदरा महंगाई दर घटी

मार्च में खुदरा महंगाई दर घटकर 5.91 फीसदी पर आ गई, जबकि फरवरी में खुदरा महंगाई दर 6.58 फीसदी थी. हालांकि इस दौरान पिछले साल खुदरा महंगाई दर महज 2.86 फीसदी थी.

खुदरा महंगाई दर में गिरावट खुदरा महंगाई दर में गिरावट

  • मार्च में खुदरा महंगाई दर 5.91 फीसदी पर आ गई
  • फरवरी में खुदरा महंगाई दर 6.58 फीसदी थी

कोरोना संकट के बीच आम आदमी के लिए महंगाई के मोर्चे पर थोड़ी राहत भरी है. लगातार दूसरे महीने खुदरा महंगाई दर में कटौती हुई है. मार्च में खुदरा महंगाई दर घटकर 5.91 फीसदी पर आ गई, जबकि फरवरी में खुदरा महंगाई दर 6.58 फीसदी थी. हालांकि इस दौरान पिछले साल खुदरा महंगाई दर महज 2.86 फीसदी थी.

महंगाई के मोर्चे पर थोड़ी राहत

दरअसल खाने-पीने की वस्तुओं के दाम घटने से खुदरा महंगाई दर में यह गिरावट आई है. इस पहले जनवरी तक लगातार 7 महीने महंगाई दर में इजाफा हुआ था. जानकार बता रहे हैं कि कोरोना वायरस की वजह से अप्रैल में भी महंगाई दर में नरमी ही रहेगी.

राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय ने सोमवार को महंगाई के ये आंकड़े जारी किए. जिसके मुताबिक खाने-पीने की चीजों की महंगाई घटकर मार्च में 8.76 फीसदी रही, जो फरवरी में 10.81 फीसदी थी.

इसे पढ़ें: कोरोना का प्रकोप लंबा खिंचा तो इकोनॉमी के लिए बढ़ेगी मुश्किल, हर कदम उठाने को तैयार RBI

सब्जियां हुईं सस्ती

खाद्य महंगाई में कमी आने के कारण मार्च 2020 में खुदरा महंगाई दर घटी है. मार्च में सब्जियों की महंगाई दर 18.63 फीसदी रही. जबकि फरवरी में यह 31.61 फीसदी थी. हालांकि फरवरी के मुकाबले मार्च में अनाज और दूसरे उत्पादों की महंगाई दर 5.23 फीसदी से बढ़कर 5.30 फीसदी हो गई.

इसे भी पढ़ें: 30 जून ITR की अंतिम तारीख, अभी निवेश पर भी मिलेगा रिफंड, ये है तरीका

फ्यूल और इलेक्ट्रिसिटी की बात करें तो मार्च में इसकी मंहगाई दर 6.59 फीसदी रही जो फरवरी 2020 में 6.36 फीसदी थी. गौरतलब है कि भारतीय रिजर्व बैंक ने महंगाई दर में और कटौती के संकेत दिए हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें