scorecardresearch
 

PM मोदी 5 नवंबर को पेश करेंगे भारत स्वर्ण-मुद्रा, 5 और 10 ग्राम होगा वजन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पांच नवंबर को अशोक चक्र के निशान वाला भारत स्वर्ण-मुद्रा और अन्य योजनाओं की शुरूआत करेंगे. भारत स्वर्ण-मुद्रा 5 ग्राम और 10 ग्राम वजन की होगी.

PM मोदी 5 नवंबर को पेश करेंगे भारत स्वर्ण-मुद्रा PM मोदी 5 नवंबर को पेश करेंगे भारत स्वर्ण-मुद्रा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पांच नवंबर को अशोक चक्र के निशान वाला भारत स्वर्ण-मुद्रा और अन्य योजनाओं की शुरूआत करेंगे. भारत स्वर्ण-मुद्रा 5 ग्राम और 10 ग्राम वजन की होगी.

घर में पड़े सोने को बाजार में लाना लक्ष्य
मोदी स्वर्ण मौद्रीकरण और सरकारी स्वर्ण बॉन्ड योजनाओं की भी शुरूआत करेंगे. इन योजनाओं का मकसद घरों और मंदिरों में निष्क्रिय पड़े 20,000 टन सोने को बाजार में लाना है ताकि उसका विकास के लिए उपयोग हो सके.

दिवाली से पहले आएगी योजना
सूत्रों मुताबिक सरकार पांच नवंबर को स्वर्ण मौद्रिकरण योजना, स्वर्ण बांड योजना तथा भारत स्वर्ण-मुद्रा पेश करेगी. इन योजनाओं को दिवाली से पहले पेश किया जा रहा है ताकि लोगों को इसकी तरफ आकर्षित किया जा सके.

5 ग्राम और 10 ग्राम में उपलब्ध
जहां तक स्वर्ण-मुद्रा का सवाल है, शुरू में यह 5 ग्राम और 10 ग्राम में उपलब्ध होगी. सूत्रों के मुताबिक, भारतीय प्रतिभूति मुद्रण तथा मुद्रा निर्माण निगम लिमिटेड द्वारा भारत स्वर्ण-मुद्रा की ढलाई हो रही है.

स्वर्ण मुद्रा बाजार से सस्ते मिलेंगे सिक्के
शुरू में 5 ग्राम के 20,000 और 10 ग्राम के 30,000 सिक्के उपलब्ध कराए जाएंगे. ये स्वर्ण मुद्रा बाजार से सस्ते होंगे और बैंकों तथा डाकघरों के जरिए दिए जाएंगे. उल्लेखनीय है कि भारत सोने का प्रमुख उपभोक्ता देश है.

20,000 टन सोने को बैंकिंग प्रणाली में लाना मकसद
लोग विभिन्न त्यौहारों, शादी तथा निवेश के मकसद से मूल्यवान धातु खरीदते हैं. सरकार ने सितंबर में स्वर्ण मौद्रिकरण योजना को मंजूरी दी थी. इसका मकसद 5,40,000 करोड़ रुपये मूल्य के निष्क्रिय पड़े 20,000 टन सोने को बैंकिंग प्रणाली में लाना है.

सोने का विकल्प है सरकारी स्वर्ण बॉन्ड
इसी तरह निवेशकों को सोने के विकल्प के रूप में सरकारी स्वर्ण बॉन्ड जारी किए जाएंगे. सरकारी स्वर्ण बॉन्ड अलग-अलग किस्तों में जारी किए जाएंगे. इन पर ब्याज रुपये में मिलेंगे. चालू वित्त वर्ष में इस बॉन्ड निर्गम से सरकार का 15,000 करोड़ रुपये जुटाने का लक्ष्य है. इसे रिजर्व बैंक के साथ सलाह करके जारी किया जा रहा है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें