scorecardresearch
 

एयरटेल नाइजीरिया में मुकदमा हारी, देने पड़ सकते हैं 3 अरब डॉलर

देश की सबसे बड़ी मोबाइल फोन सेवा प्रदाता कंपनी भारती एयरटेल, नाइजीरिया की एक अदालत में मुकदमा हार गई है.

देश की सबसे बड़ी मोबाइल फोन सेवा प्रदाता कंपनी भारती एयरटेल, नाइजीरिया की एक अदालत में मुकदमा हार गई है.

कंपनी को अपनी नाइजीरियाई इकाई में ईकोनेट वायरलेस के 5 प्रतिशत हिस्सेदारी के दावे पर 3 अरब डॉलर का भुगतान करना पड़ सकता है. हालांकि भारती ने कहा कि वह अदालत के फैसले के खिलाफ नाइजीरिया के उच्चतम न्यायालय में अपील करेगी.

निचली अदालत ने फैसले में कहा कि ईकोनेट वायरलेस, एयरटेल नाइजीरिया में एक सही हिस्सेदार है.लागोस में अपीलीय कोर्ट ने 14 फरवरी को दिए अपने फैसले में कहा कि एयरटेल कंपनी में ईकोनेट वायरलेस द्वारा हिस्सेदारी पुन: हासिल करने के प्रयासों को रोकने में निचली दो अदालतों के फैसले को खारिज कराने में विफल रही है.

एयरटेल ने एक बयान में कहा है कि वह इस फैसले से संतुष्ट नहीं है और इसके खिलाफ वह नाइजीरिया के सुप्रीम कोर्ट में जाएगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें