scorecardresearch
 

जानें, आम बजट से क्या चाहती हैं ब्यूटी इंडस्ट्री!

नोटबंदी के बाद 1 फरवरी को आने वाले बजट से सभी को बहुत उम्मीदे हैं, ऐसे में अगर ब्यूटी इंडस्ट्री की बात करें तो एक बहुत बड़ा वर्ग इससे जुड़ा हैं. सरकार से इस बजट में महिलाओं और ब्यूटीशियन ने ब्यूटी प्रोडक्ट्स पर टैक्स छूट की मांग की है, ताकि महिलाओं का मंथली खर्च कुछ कम हो जाए.

महिलाओं और ब्यूटीशियंस ने ब्यूटी प्रोडक्ट्स पर टैक्स छूट की मांग की है महिलाओं और ब्यूटीशियंस ने ब्यूटी प्रोडक्ट्स पर टैक्स छूट की मांग की है

नोटबंदी के बाद 1 फरवरी को आने वाले बजट से सभी को बहुत उम्मीदे हैं, ऐसे में अगर ब्यूटी इंडस्ट्री की बात करें तो एक बहुत बड़ा वर्ग इससे जुड़ा हैं. सरकार से इस बजट में महिलाओं और ब्यूटीशियन ने ब्यूटी प्रोडक्ट्स पर टैक्स छूट की मांग की है, ताकि महिलाओं का मंथली खर्च कुछ कम हो जाए.

राजधानी की बड़ी-बड़ी ब्यूटी एक्सपर्ट्स ने भी इस बजट को उम्मीदों का बजट बताते हुए लोन पर लगने वाले टैक्स और सर्विस टैक्स में कमी की मांग की, ताकि कस्टमर का बिल बड़ा न बने. इसके साथ ही उन्होंने ब्यूटी इंडस्ट्री में करियर बनाने वाले लोगों के लिए लोन सुविधा को आसान और सस्ता बनाने की मांग की है. ब्यूटी एक्सपर्ट भारती तनेजा ने कहा, सर्विस टैक्स और प्रोडक्ट्स पर टैक्स कम हो होना चाहिए.

आजकल ब्यूटी से जुड़ी चीज़ें लक्ज़री की जगह ज़रूरत बन गई हैं और महिलाओं का एक बड़ा वर्ग इस इंडस्ट्री से जुड़ा है. अब ऐसे में मोदी सरकार का ये बजट इनके लिए भी उम्मीदों का बजट हैं.

ब्यूटी और मेकअप एक्सपर्ट एकता बख्शी ने भी कहा की अगर इम्पोर्टेड कॉस्मेटिक प्रोडक्ट्स पर टैक्स कम हो जाए, तो कस्टमर को थोड़ा कम बिल देना पड़ेगा.

नोटबंदी के कारण हर इंडस्ट्री ने थोड़ा-बहुत नुक्सान झेला है, अब ऐसे में इस बजट से उम्मीदें हैं कि सरकार कुछ ऐसी राहत दे, जिससे नुक्सान की भरपाई भी हो जाए और कस्टमर को भी फायदा हो.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें