scorecardresearch
 

1 जुलाई से GST लागू, टैक्स चोरी होगी बंद: जेटली

वित्त मंत्री अरण जेटली ने कहा है कि अप्रत्यक्ष कर क्षेत्र की नई व्यवस्था वस्तु एवं सेवाकर (GST-गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स) को एक जुलाई से लागू कर दिया जायेगा. जीएसटी लागू होने से वस्तुयें और सेवायें सस्ती होंगी और टैक्स की चोरी करना बेहद मुश्किल हो जाएगा.

X
वित्त मंत्री अरण जेटली
वित्त मंत्री अरण जेटली

वित्त मंत्री अरण जेटली ने कहा है कि अप्रत्यक्ष कर क्षेत्र की नई व्यवस्था वस्तु एवं सेवाकर (GST-गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स) को एक जुलाई से लागू कर दिया जायेगा. जीएसटी लागू होने से वस्तुयें और सेवायें सस्ती होंगी और टैक्स की चोरी करना बेहद मुश्किल हो जाएगा.

ग्लोबल तेजी पर दौड़ेगा भारत
जेटली ने यह भी कहा कि 7 से 8 फीसदी की आर्थिक वृद्धि हासिल करना मुमकिन है और यदि वैश्विक अर्थव्यवस्थाओं में स्थिति सुधरती है तो देश की आर्थिक वृद्धि दर इससे भी बेहतर हो सकती है. जेटली ने कहा कि नोटबंदी से ब्लैकमार्केट अर्थव्यवस्था को हतोत्साहित किया जा सकेगा और अनौपचारिक अर्थव्यवस्था को औपचारिक अर्थव्यवस्था के साथ जोड़ने में मदद मिलेगी.

बढ़ेगी भारत की जीडीपी
जेटली के मुताबिक इससे सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) का आकार बढ़ेगा और यह अधिक साफ सुथरी होगी. जीएसटी देश का सबसे बड़ा कर सुधार है जिसे केन्द्र सरकार एक जुलाई 2017 से लागू करने की कोशिश कर रही है. इससे वस्तु एवं सेवाकर के क्षेत्र में अहम बदलाव देखने को मिलेंगे. खासतौर पर इसे लागू करने के बाद केन्द्र सरकार के राजस्व में इजाफा होगा.

कारोबारी और उपभोक्ता को बड़ा फायदा
जीएसटी लागू होने के बाद कारोबारी के लिए सबसे बड़ा फायदा यह होगा कि उसे पूरे देश में एक समान टैक्स अदा करना पड़ेगा. वहीं मौजूदा समय में एक राज्य से दूसरे राज्य में कारोबार करने में व्यवसाइयों को कई तरह के टैक्स अदा करने पड़ते हैं. जीएसटी का सबसे बड़ा फायदा उपभोक्ताओं को होगा. जीएसटी लागू हो जाने के बाद जिंस और सेवायें कुछ सस्ती और अधिक सुविधाजनक हो जाएंगी.

इनकम टैक्स विभाग होगा चुस्त
वित्त मंत्री जेटली ने कहा कि वह आयकर विभाग को इतना मजबूत बनाने का प्रयास कर रहे हैं कि कर चोरी करना काफी मुश्किल हो जाये. उन्होंने कहा कि इसके बाद केवल सीमित संख्या में ही मामलों को जांच परख के लिये लिया जायेगा. वित्त मंत्री ने कहा, जीएसटी लागू करने के लिये जरूरी विधेयक इस समय संसद के समक्ष हैं और इनके पारित होने के बाद इस साल के मध्य तक हम इसपर अमल होने की उम्मीद कर रहे हैं.

जीएसटी बनेगा दुनिया का सबसे बेस्ट टैक्स सिस्टम
जीएसटी लागू होने के बाद अप्रत्यक्ष करों के क्षेत्र में इस समय जो जटिल कर प्रणाली है, वह दुनिया की सबसे सरल कर प्रणाली बन जायेगी. केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने इसी सप्ताह जीएसटी से जुड़े चार विधेयकों के प्रारूप को मंजूरी दे दी है. इन विधेयकों को संसद के चालू बजट सत्र में पेश किया जायेगा. आर्थिक वृद्धि के बारे में जेटली ने कहा कि भारत दुनिया की सबसे तेज गति से वृद्धि दर्ज करने वाली अर्थव्यवस्थाओं में बना रहेगा .

विकास दर 10 फीसदी?
पिछले लगातार तीन सालों से भारत सबसे तेजी से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था है. भारत के लिये सात से आठ प्रतिशत की आर्थिक वृद्धि हासिल करना तार्किक रूप से पूरी तरह मुमकिन है. यदि दुनिया के देशों में अच्छी वृद्धि होती है तो हम भी और तेजी से आगे बढ़ सकते हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें