scorecardresearch
 

कबाड़ बेचकर पैसा कमाएगी एयर इंडिया, हैंगर भी करेगी खाली

एयर इंडिया के विनिवेश पर विचार चल रहा है. ऐसे में पिछले महीने ही कंपनी के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक का पद ग्रहण करने वाले राजीव बंसल ने कहा कि कंपनी समय पर उड़ान परिचालन (ओटीपी), ग्राहक सेवा बेहतर बनाने और विभिन्न मदों में लागत कटौती करने के लिए काम कर रही है.

फाइल फोटो। फाइल फोटो।

सार्वजनिक क्षेत्र की विमानन कंपनी एयर इंडिया कुछ हवाई अड्डों पर बिना इस्तेमाल वाले पार्किंग स्थानों (हैंगर) को खाली करने की योजना बना रहा है. लागत में कटौती के लिए कंपनी इसके अलावा वहां पड़े कबाड़ को भी बेचेगी.

एयर इंडिया के विनिवेश पर विचार चल रहा है. ऐसे में पिछले महीने ही कंपनी के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक का पद ग्रहण करने वाले राजीव बंसल ने कहा कि कंपनी समय पर उड़ान परिचालन (ओटीपी), ग्राहक सेवा बेहतर बनाने और विभिन्न मदों में लागत कटौती करने के लिए काम कर रही है.

बंसल ने पीटीआई-भाषा से कहा कि वह हवाईअड्डों पर कंपनी के कबाड़ में घिरे पड़े अतिरिक्त स्थान को खाली करने की योजना पर काम कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि मैंने पाया कि हैंगरों में बहुत सारा बिना इस्तेमाल वाला सामान पड़ा हुआ है और हम बेवजह इस स्थान को रखे हुए हैं.

बंसल के अनुसार इस कबाड़ को बेचकर कुछ पैसा कमाया जा सकता है और साथ ही इन स्थानों को खालीकर किराया लागत को भी कम कर सकते हैं. बंसल ने कहा कि दिल्ली में कंपनी ने एक विमान को नीलाम कर दिया, लेकिन वह हैंगर में खड़ा है. इसी तरह मुंबई में इस्पात का कबाड़ पड़ा हुआ है और हम इसे हटाने का प्रयास कर रहे हैं ताकि हैंगर को खाली किया जा सके.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें