scorecardresearch
 

बिकेगा एयर इंडिया, रुकी नए हवाई जहाज खरीदने की सभी डील

सार्वजनिक क्षेत्र की विमानन कंपनी एयर इंडिया के विमान बेड़े का विस्तार करने की योजना को फिलहाल रोक दिया गया है. संभवत: ऐसा उसके पूरी तरह निजीकरण करने के नीति आयोग के प्रधानमंत्री कार्यालय को भेजे गए एक प्रस्ताव के बाद किया गया है.

एयर इंडिया एयर इंडिया

सार्वजनिक क्षेत्र की विमानन कंपनी एयर इंडिया के विमान बेड़े का विस्तार करने की योजना को फिलहाल रोक दिया गया है. संभवत: ऐसा उसके पूरी तरह निजीकरण करने के नीति आयोग के प्रधानमंत्री कार्यालय को भेजे गए एक प्रस्ताव के बाद किया गया है.

खबरों की माने तो एयरलाइन कंपनी के विमान बेड़े में विस्तार के निर्णय को पहले कंपनी के निदेशक मंडल ने अपनी मंजूरी दे दी थी लेकिन फिलहाल इसे रोक दिया गया है और नए विमान खरीद की निविदाओं को स्थिति के स्पष्ट होने तक के लिए स्थगित कर दिया गया है. उल्लेखनीय है कि एयर इंडिया के निदेशक मंडल ने मार्च में सात बोइंग 787-9 विमानों को कंपनी के बेड़े में शामिल करने के प्रस्ताव को अनुमति दे दी थी ताकि कनाडा, अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया मे सेवाओं को बेहतर किया जा सके. .

गौरतलब है कि घाटे मे चल रही एयर इंडिया ने अपनी सेवाओं को दुरस्त करने के लिए साल की शुरुआत मे ही चार बोइंग 787-8 विमान खरीदे थी जिसकी अक्टुबर तक मिलने की उम्मीद थी और एयर इंडिया ने सितंबर, 2012 से 9 जनवरी, 2017 तक कुल 23 ड्रीमलाइनर विमान खरीदे है इसके साथ ही समय समय पर इसके घाटे को दुर करने और इसकी सुरत सवांरने के लिए हजारों करोड़ रुपए की मदद करती है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें