scorecardresearch
 

पहला ऐसा बजट आया जिसमें हमें लगता है कि कुछ और नहीं चाहिए: संजीव गोयनका 

इंडिया टुडे कॉन्क्लेव ईस्ट को संबोध‍ित करते हुए डॉ. संजीव गोयनका ने कहा कि पहला ऐसा बजट आया है जिसमें हमें लगता है कि सब कुछ मिल गया और कुछ नहीं चाहिए.

संजीव गोयनका ने इंडिया टुडे कॉन्क्लेव ईस्ट को संबोधित किया (फोटो: यासिर इकबाल) संजीव गोयनका ने इंडिया टुडे कॉन्क्लेव ईस्ट को संबोधित किया (फोटो: यासिर इकबाल)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • इंडिया टुडे कॉन्क्लेव ईस्ट का आज समापन दिवस
  • आरपी संजीव गोयनका समूह के चेयरमैन शामिल हुए
  • केंद्र सरकार के बजट से संतुष्टि- संजीव गोयनका 

आरपी संजीव गोयनका ग्रुप के चेयरमैन डॉ. संजीव गोयनका ने वित्त वर्ष 2021-22 के केंद्र सरकार के बजट की तारीफ करते हुए कहा कि पहला ऐसा बजट आया है जिसमें हमें लगता है कि सब कुछ मिल गया और कुछ नहीं चाहिए. इंडिया टुडे कॉन्क्लेव ईस्ट को संबोध‍ित करते हुए उन्होंने यह बात कही.

गोयनका ने कहा, 'हर बजट के बाद हम कहते रहे हैं क‍ि ये दिल मांगे मोर, लेकिन इस बजट के बाद ऐसा कुछ कहने को नहीं है. सरकार ने अपना काम कर दिया है. अब हमें काम करना है. हमें अपना विस्तार करना होगा. उत्पादन क्षमता बढ़ानी होगी. निवेश करना होगा.' 

इकोनॉमी पटरी पर आ रही 

उन्होंने कहा कि इकोनॉमी अब तेजी से पटरी पर आ रही है. उन्होंने कहा, 'अगर मैं अपने ग्रुप की बात करूं तो पिछले एक साल में ही हमने तमिलनाडु में अत्याधुनिक केमिकल कारखाना शुरू किया है. हमने कई कारखानों का विस्तार किया है, FMCG कारोबार का विस्तार किया है, आईटीईएस में अध‍िग्रहण कर रहे हैं. हम काफी निवेश कर रहे हैं और इंडिया की इकोनॉमी में हमें भरोसा है.' 

उन्होंने कहा कि पिछली तिमाही हमारे इतिहास की बेस्ट क्वार्टर रही है. मौजूदा तिमाही और अगली तिमाही भी बेहतर होगी. निश्चित रूप से अर्थव्यवस्था तेजी से पटरी पर लौटेगी. 

वामपंथी राज ने बंगाल का काफी नुकसान किया 

उन्होंने कहा कि बंगाल 34 साल के वामपंथी शासन का पीड़ि‍त रहा है, इसके बारे में धारणा काफी खराब हुई है. महाराष्ट्र और गुजरात की इमेज काफी अच्छी हुई है. ये राज्य निवेश के लिए काफी बेहतर माने जा रहे हैं, बंगाल भी निवेश के लिए अच्छा स्थान है, लेकिन इसके बारे में धारणा काफी खराब है. 

प्रतिभा पलायन पर उन्होंने कहा कि अगर सही माहौल नहीं रहेगा तो सही प्रतिभाएं भी नहीं रहेंगी. एक बार जब निवेश का माहौल सुधरेगा जॉब भी अपने आप बढ़ेगी और जॉब मार्केट में चेंज होगा. 

इंडिया टुडे कॉन्क्लेव ईस्ट का ये सिलसिला 2017 में शुरू हुआ था और इस बार इसका चौथा आयोजन 11 और 12 फरवरी को हुआ. आज इसका दूसरा और समापन का दिन था. इसके मंच पर अरुणाचल प्रदेश के पूर्व निनॉन्ग एरिंग, पूर्व चीफ जस्टिस और राज्यसभा सदस्य रंजन गोगोई, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह सहित कई हस्तियां पहुंचीं. 

बंगाल और असम विधानसभा चुनाव के मद्देनजर बीजेपी पश्चिम बंगाल के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय, टीएमसी सांसद नुसरत जहां, बीजेपी सांसद स्वपन दासगुप्ता, असम प्रदेश कांग्रेस कमेटी के वरिष्ठ प्रवक्ता और लोकसभा सांसद प्रद्युत बोरदोलोई, CPI (M) के महासचिव सीताराम येचुरी, CPI (M) नेता मोहम्मद सलीम, कांग्रेस विधायक निनॉन्ग एरिंग, भाजपा सांसद तापिर गाओ जैसे दिग्गज शामिल हुए. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें