scorecardresearch
 
बजट

CNG और PNG का डिस्ट्रीब्यूटर बनने का मौका, मोदी सरकार देगी लाइसेंस

डिस्ट्रीब्यूटरशिप का मौका देगी सरकार
  • 1/6

अगर सीएनजी और पीएनजी का रिटेल डिस्ट्रीब्यूटरशिप लेना चाहते हैं तो आपके लिए एक अच्छी खबर है. दरअसल, आने वाले दिनों में इसके लिए लाइसेंस वितरण की प्रक्रिया पूरी की जाएगी.
 

जल्द होगी नीलामी
  • 2/6

जानकारी के मुताबिक देश के विभिन्न शहरों में सीएनजी और पीएनजी वितरण लाइसेंस देने के लिए नीलामी जल्द शुरू होगी. ये जानकारी पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने दी है.
 

क्या कहा धर्मेंद्र प्रधान ने
  • 3/6

धर्मेंद्र प्रधान ने कहा, ‘‘शहरों में गैस वितरण के लिए 11वें दौर की नीलामी प्रक्रिया बहुत जल्द पेश की जाएगी. पीएनजीआरबी इसकी तैयारी कर रही है.’’ 
 

100 जिलों तक फैलाव
  • 4/6

उन्होंने कहा कि 11वें दौर की नीलामी प्रक्रिया के बाद छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और विदर्भ के 50 से 100 जिलों तक शहरी गैस नेटवर्क सुविधा पहुंच जायेगी. 
 

2018 और 2019 में बांटे जा चुके लाइसेंस
  • 5/6

आपको बता दें कि पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस नियामक बोर्ड (पीएनजीआरबी) ने 2018 और 2019 के दौरान देश के 136 क्षेत्रों में वाहनों के लिए सीएनजी और घरों के लिए पाइप्ड नेचुरल गैस (पीएनजी) का खुदरा कारोबार करने के लाइसेंस दिए. 

कुल 500 शहरों तक होगी पहुंच
  • 6/6

इससे देश की करीब 70 प्रतिशत आबादी और 406 जिलों तक गैस वितरण को पहुंचाने में मदद मिली. सरकार की नई पहल से अब करीब 500 शहरों तक पर्यावरण अनुकूल ईंधन को पहुंचाने में मदद मिलेगी. वर्तमान में देश में हो रही कुल ऊर्जा खपत में प्राकृतिक गैस का हिस्सा मात्र 6.3 प्रतिशत है, जिसे 2030 तक 15 फीसदी करने का लक्ष्य है.