scorecardresearch
 

Alto हुई पीछे, अब ये बन गयी मारुति की सबसे ज्यादा बिकने वाली कार

कोविड-19 लॉकडाउन के समय कई कार कंपनियों की एक कार तक नहीं बिकी.वहीं देश में सबसे ज्यादा बिकने वाली मारुति सुजुकी की ऑल्टो को पीछे छोड़ते हुए स्विफ्ट ने यह खिताब अपने नाम कर लिया. पिछले 15 साल में स्विफ्ट दूसरी ऐसी कार है जिसने ऑल्टो की बिक्री के रिकॉर्ड को तोड़ा है.

Swift है अब मारुति की सबसे ज्यादा बिकने वाली कार Swift है अब मारुति की सबसे ज्यादा बिकने वाली कार
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 15 साल में दूसरी बार टूटा ऑल्टो का रिकॉर्ड
  • डिजायर की बिक्री में सबसे अधिक गिरावट
  • Kia मोटर्स की सेल्टोस का प्रदर्शन शानदार

मारुति सुजुकी की स्विफ्ट 2020 में देश की सबसे अधिक बिकने वाली कार रही. इसने मारुति की ही ऑल्टो (Aulto) के रिकॉर्ड को तोड़ दिया.

पिछले 15 साल में इससे पहले यह कारनामा स्विफ्ट के ही सेडान मॉडल डिजायर ने 2018 में किया था. लेकिन 2020 में डीजल मॉडल का विकल्प नहीं होने से सबसे बड़ा झटका डिजायर की बिक्री को ही लगा है.

कारों की सालाना बिक्री में गिरावट

2020 में कोरोना वायरस महामारी के चलते टॉप-10 में शामिल लगभग सभी कारों की सालाना बिक्री में गिरावट आई है. सिवाय किया मोटर्स की सेल्टोस के, क्योंकि इस कार को अगस्त 2019 में ही भारतीय बाजार में उतारा गया.

साल के दौरान ऑल्टो की बिक्री 26 प्रतिशत गिरकर 1,54,076 इकाई रही. वहीं डिजायर और ब्रेजा की बिक्री में क्रमश: 37 प्रतिशत और 34 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई. इसकी तुलना में स्विफ्ट और मारुति की प्रीमियम हैचबैक बलेनो की बिक्री में सांकेतिक 16.2 प्रतिशत की गिरावट रही.

 इसे देखें: आजतक LIVE TV 

इस वजह से टॉप-10 में शामिल कारों में स्विफ्ट पहले नंबर, ऑल्टो दूसरे नंबर और बलेनो तीसरे नंबर पर रही. ऑल्टो की बिक्री को बड़ा झटका एस-प्रेसो से प्रतिस्पर्धा के चलते भी मिला. 2020 में एस-प्रेसो की भी 67,690 इकाइयां बिकीं.

सबसे अधिक बिकने वाली SUV

मारुति सुजुकी की प्रतिद्वंद्वी कंपनी हुंडई की क्रेटा 2020 में सबसे अधिक बिकने वाली एसयूवी कार रही. इसकी 97,000 इकाइयां बिकीं. वहीं टॉप-10 की सूची में यह सातवें नंबर पर रही. इसी तरह नई कंपनी Kia मोटर्स की सेल्टोस देश की आठवीं सबसे ज्यादा बिकने वाली कार रही. क्रेटा के मुकाबले इसकी बिक्री मात्र 57 इकाई कम रही.

डिजायर के बाद हुंडई की एलीट आई20 कार की बिक्री को भी सबसे ज्यादा झटका लगा. मारुति के डीजल कारों की बिक्री नहीं करने के निर्णय  का असर डिजायर के साथ-साथ ब्रेजा की बिक्री पर भी पड़ा है. बीते कुछ सालों में ब्रेजा ने डीजल कारों के बाजार में अपनी अहम छाप बनाई है. वह इस साल टॉप-10 की सूची में चार अंक गिरकर 10वें स्थान पर रही. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें