scorecardresearch
 

मध्य प्रदेश: लाल भिंडी की खेती से मालामाल किसान, कई गुना मुनाफा, 800 रुपये किलो तक दाम

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के खजूरिकलां गांव के किसान मिश्री लाल ने अपने खेत में सामान्य भिंडी की बजाय लाल भिंडी उगाई है. जिसे देखने और इसकी खेती कैसे होती है इस बारे में जानकारी लेने दूर-दूर से किसान आ रहे हैं.

Madhya Pradesh farmer cultivates red lady finger Madhya Pradesh farmer cultivates red lady finger
स्टोरी हाइलाइट्स
  • लाल भिंडी की खेती में ज्यादा मुनाफा
  • स्वास्थ्य के लिए लाभदायक लाल भिंडी

Red Lady Finger Cultivation: भारतीय किसान अब जागरूक हो चुके हैं. वे नई-नई फसलें और तकनीकों में अपनी दिलचस्पी दिखा रहे हैं. खेती से ज्यादा मुनाफा कमाने के लिए वह फसलों की नई प्रजातियों का भी उत्पादन कर रहे हैं. दूसरी ओर सरकार भी किसानों की आर्थिक स्थिति सुधारने के लिए लगातार प्रयास कर रही है.

मध्य प्रदेश के किसान ने उगाईं लाल भिंडी

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) की राजधानी भोपाल के खजूरिकलां गांव के किसान मिश्री लाल ने अपने खेत में सामान्य भिंडी की बजाय लाल भिंडी (Red Okra) उगाई हैं. जिसे देखने और इसकी खेती कैसे होती है इस बारे में जानकारी लेने दूर-दूर से किसान आ रहे हैं.

लाल भिंडी के उत्पादन में ज्यादा मुनाफा 

किसान मिश्री लाल बताते हैं कि सामान्य भिंडी के मुकाबले लाल भिंडी की खेती में उन्हें ज्यादा फायदा हो रहा है. बाजार में सामान्य भिंडी ज्यादा से ज्यादा 50 रुपये किलो तक बिकती है. लेकिन लाल भिंडी के साथ फायदा ये है कि इसके भाव कभी-कभी 800 रुपये प्रति किलो तक भी पहुंच जाता है. वह आगे कहते हैं कि उनकी फसल की लागत काफी पहले निकल चुकी है और वह अब लाल इस फसल से शुद्ध मुनाफा कमा रहे हैं.

Red Lady Finger Farming

कैसे की शुरुआत?

मिश्री लाल के मुताबिक लाल भिंडी उगाने का आइडिया उन्हें तब आया जब वह एक बार वाराणसी के पास केलाबेला में इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ वेजिटेबल रिसर्च गए. इस दौरान उन्होंने कृषि विशेषज्ञों से लाल भिंडी के आर्थिक और स्वास्थ्य फायदों के बारे जानकारी ली. मिश्री लाल ने 1 किलो लाल भिंडी के बीज खरीदे और अपने गांव आकर उसकी खेती शुरू कर दी और आज किसानों के लिए वे मिसाल बने हुए हैं.

स्वास्थ्य के लिए भी लाभदायक

लाल भिंडी में Anti Oxydent और Iron भरपूर पाया जाता है जो स्वास्थ्य के लिए लाभदायक है. इसका स्वाद भी सामान्य भिंडी से अलग है. आजकल स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों को देखते हुए लाल भिंडी को लोग हाथों हाथ ले रहे हैं. साथ ही लाल भिंडी को पकने में भी कम समय लगता है. इसके अलावा इसकी खेती में लागत भी सामान्य भिंडी के मुकाबले कम है, इसलिए मुनाफा भी ज्यादा है.  

ये भी पढ़ें:

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें