scorecardresearch
 

Dragon Fruit Farming: ड्रैगन फ्रूट की खेती कर किसान हो जाएंगे लखपति, जानें सभी डिटेल्स

Dragon Fruit Farming: ड्रैगन फ्रूट एक सीजन में कम से कम तीन बार फल देता ही है. एक फल का वजन आमतौर पर 400 ग्राम तक होता है. एक पेड़ में कम से कम 50-60 फल लगते हैं. भारत में ड्रैगन फ्रूट की कीमत 200 से 250 रुपये प्रति किलो तक है. ऐसे में हर पेड़ से आप 6 हज़ार रुपये तक कमा सकते हैं.

X
Dragon Fruit Farming Profit Dragon Fruit Farming Profit
स्टोरी हाइलाइट्स
  • ड्रैगन फ्रूट एक सीजन में तीन बार फल देता है
  • पहले साल से ही मिलने लगेगा ड्रैगन फ्रूट का फल 

Dragon Fruit Farming Profit: भारत में ज़्यादातर किसानों की माली हालत ठीक नहीं है. इसकी बड़ी वजह फसल की सही कीमत नहीं मिलना है. लेकिन कई ऐसे किसान भी हैं, जो पारंपरिक खेती से हटकर लाखों-करोड़ों रुपये कमा रहे हैं.  ड्रैगन फ्रूटकी कहती ऐसी ही एक फसल है जिसकी खेती कर किसान मालामाल हो सकते हैं. 

ड्रैगन फ्रूट का वैज्ञानिक नाम हाइलोसेरेसुंडाटस है, जो कि प्रमुख रूप से मलेशिया, थाईलैंड, फिलीपींस, संयुक्त राज्य अमेरिका और वियतनाम जैसे देशों में पैदा होता है. अगर तय मानकों के अनुसार, ड्रैगन फ्रूट की खेती की जाए तो बंपर कमाई की जा सकती है. एक एकड़ के खेत में हर साल लाखों रुपये तक की कमाई की जा सकती है. शुरुआती समय में इसकी खेती पर चार-पांच लाख रुपये तक खर्च करने पड़ सकते हैं. 

ड्रैगन फ्रूट एक सीजन में कम से कम तीन बार फल देता ही है. एक फल का वजन आमतौर पर 400 ग्राम तक होता है. एक पेड़ में कम से कम 50-60 फल लगते हैं. भारत में ड्रैगन फ्रूट की कीमत 200 से 250 रुपये प्रति किलो तक है. ऐसे में हर पेड़ से आप 6 हज़ार रुपये तक कमा सकते हैं. 1 एकड़ जमीन पर आप कम से कम 1700 ड्रैगन फ्रूट के पेड़ लगा सकते हैं. इसका मतलब है कि एक एकड़ जमीन पर इसकी खेती कर आप एक साल में करीब 10,200,000 रुपये कमा सकते हैं. इस पौधे को लगाने के बाद पहले साल से ही आपको ड्रैगन फ्रूट का फल मिलने लगेगा.  

जल वायु और जमीन -  
यह फल उन जगहों पर भी काफी अच्छी तरह से उगता है, जहां पर कम बारिश होती है. अगर मिट्टी की गुणवत्ता भी ज्यादा अच्छी नहीं है, तो भी यह फ्रूट अच्छी तरह से उग सकता है. 20 से 30 डिग्री सेल्सियस तापमान में ड्रैगन फ्रूट की खेती आसानी से की जा सकती है. इसकी खेती के लिए ज्यादा धूप की भी जरूरत नहीं होती है.  ड्रैगन फ्रूट की खेती करने की सोच रहे हैं तो आपकी मिट्टी 5.5 से 7 पीएच की होनी चाहिए. यह बालुई मिट्टी में भी हो सकता है. अच्छे कार्बनिक पदार्थ और रेतीली मिट्टी इसकी खेती के लिए सबसे अच्छी होती है. 

ड्रैगन फ्रूट के फायदे - 
ड्रैगन फ्रूट का इस्तेमाल जैम, आइसक्रीम, जैली प्रोडक्शन, फ्रूट जूस, वाइन आदि में किया जाता है. साथ ही, इसे फेस पैक्स में भी यूज करते हैं. फलों को सेहत के लिए काफी अच्छा माना जाता है. इसी तरह, ड्रैगन फ्रूट के सेवन से आपकी हेल्थ को काफी फायदा मिलता है. डायबिटीज को कंट्रोल करने में यह मददगार होता है. कॉलेस्ट्रोल में भी इससे फायदा मिलता है. ड्रैगन फ्रूट में फैट और प्रोटीन की मात्रा भी बहुत होती है और यह अर्थराइटिस बीमारी को भी दूर करता है. आपके दिल से जुड़ीं बीमारियों को भी ड्रैगन फ्रूट दूर कर सकता है. 

ये भी पढ़ें - 


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें